एडवांस्ड सर्च

आज मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेंगे अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव गुरुवार को उत्तर प्रदेश के सबसे युवा मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेंगे, जिसकी लगभग सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है.

Advertisement
आजतक ब्‍यूरोलखनऊ, 28 March 2012
आज मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेंगे अखिलेश यादव अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव गुरुवार को उत्तर प्रदेश के सबसे युवा मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेंगे, जिसकी लगभग सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है.

शपथ ग्रहण समारोह में दक्षिणपंथी लालकृष्ण आडवाणी, वामपंथी प्रकाश करात से लेकर उद्योगपति अनिल अंबानी और बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन शामिल होंगे. 38 वर्षीय अखिलेश के शपथ ग्रहण का कार्यक्रम सुबह 11 बजे से लखनऊ के लामार्टीनियर कॉलेज मैदान में शुरू होगा जहां करीब 15 हजार लोगों के बैठने व्यवस्था की गई है.

शपथ ग्रहण के लिए तीस गुणा बीस वर्ग फिट का आठ फिट ऊंचा मंच बनाया गया है. अतिथियों और आगंतुकों के लिए करीब एक लाख वर्ग फिट का भव्य पंडाल लगाया गया है. लखनऊ के जिलाधिकारी अनिल कुमार सागर ने संवाददाताओं को बताया कि कार्यक्रम स्थल और आस-पास की सुरक्षा के लिए चाक चौबंद इंतजाम किए जाएंगे.

कार्यक्रम स्थल के अंदर और बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया जाएगा. उन्होंने बताया कि पंडाल में चार प्रवेश द्वार बनाए गए हैं. अतिथियों और वीआईपी के लिए अलग से द्वार बनाए जाने के साथ उनके लिए अलग दीर्घा बनाई जा रही है.

सपा कार्यकर्ताओं, नेताओं और विधायकों के अलावा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव प्रकाश करात, पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारुक अब्दुल्ला, तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) मुखिया चंद्रबाबू नायडू, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला, केंद्रीय मंत्री शरद पवार और तृणमूल कांग्रेस नेता सुल्तान अहमद सहित कई राजनीतिक दिग्गज अखिलेश के शपथ ग्रहण में शिरकत करने पहुंच रहे हैं.

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन, उनकी पत्नी जया बच्चन उद्योगपति अनिल अंबानी, सुब्रोत राय सहारा, संजय डालिमया सहित दिग्गज हस्तियां भी इस समारोह में शिरकत करने पहुंचेंगी.

उधर भावी मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुधवार को लखनऊ में अपने मंत्रमिंडल के बारे में पूछे जाने पर कहा, 'जब ज्यादा संख्या में लोग हों तो मंत्रिमंडल बनाने में कठिनाई होती है. फिलहाल मंत्रिमंडल छोटा होगा, जो आगे बढ़ाया जाएगा.' अखिलेश ने कहा, 'मंत्रमिंडल में नए चेहरों को मौका दिया जाएगा. कोशिश की जाएगी कि नए और अनुभवी दोनों का तालमेल मंत्रिमंडल में रहे.'

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay