एडवांस्ड सर्च

न्यायिक हिरासत में भेजा गया आतंकी नवेद

ऊधमपुर आतंकी हमले में पकड़े गए संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद नवेद को 26 अगस्त तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. अभी तक वह पुलिस रिमांड पर था. जम्मू के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सुमित गुप्ता ने उसे न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in [Edited By: मुकेश कुमार]जम्मू, 24 August 2015
न्यायिक हिरासत में भेजा गया आतंकी नवेद

ऊधमपुर आतंकी हमले में पकड़े गए पाकिस्तानी आतंकी मोहम्मद नवेद को 26 अगस्त तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. अभी तक वह पुलिस रिमांड पर था. जम्मू के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सुमित गुप्ता ने उसे न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया.

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ऊधमपुर घटना की जांच कर रही है. इस आतंकी वारदात में सीमा सुरक्षा बल के दो जवान शहीद हो गए थे. एक आतंकी मारा गया था. नावेद भागकर पास के चिरडी गांव में घुस गया था, जहां गांव वालों ने उस पर काबू पाकर उसे पुलिस को सौंप दिया था.

पॉलीग्राफी टेस्ट में हुआ था खुलासा
बताते चलें कि नवेद ने पॉलीग्राफी टेस्ट में माना था कि वह पाकिस्तानी है. उसने लश्कर कैंप में 50 नौजवानों के साथ ट्रेनिंग ली है. बीएसएफ की टीम पर नशे की हालत में उसने हमला किया था. उसने कबूल किया कि वह पाकिस्तान के फैसलाबाद का रहने वाला है.

हमले से पहले लिया था ड्रग्स
नवेद ने बताया था कि उसने जून के पहले सप्ताह में भारतीय सीमा पर बाड़ को काटकर घुसपैठ की थी. उसके बाद वह जम्मू-कश्मीर में अलग-अलग स्थानों पर करीब 40 दिनों तक रहा. उसने जिस दिन बीएसएफ टीम पर हमला किया था, उस दिन उसने ड्रग्स लिया था.

मौलवी ने किया था उसे भर्ती
जांच एजेंसी NIA को नवेद ने बताया था कि जिहाद के नाम पर उसे एक लोकल मौलवी मोहम्मद बशीर ने इस काम के लिए भर्ती किया था. उसे इस मिशन को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद पाकिस्तान में एक घर और पैसे देने का लालच दिया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay