एडवांस्ड सर्च

शनि की पूजा करते समय बरतनी चाहिए ये सावधानियां

जानिए, शनि के 10 नाम जिनको जपने से बनेंगे काम और मिलेगी शनि देव की कृपा.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: पी.बी.]नई दिल्ली, 10 January 2019
शनि की पूजा करते समय बरतनी चाहिए ये सावधानियां शनि की पूजा में ध्यान में रखें ये बातें

शनि के 10 नाम आपके बिगड़े हुए कामों को बना सकते हैं. इसके अलावा जानिए कि शनि का आपकी जिंदगी के ऊपर कैसे प्रभाव पड़ता है और शनि कैसे आपको शुभ या अशुभ फल प्रदान करता है.

1. सबसे पहले जानेंगे कि शनि आपके कामों में रुकावट क्यों डालते हैं?

- आप रात में देर से सोते हैं और सुबह देर से जागते हैं

- आप किसी मजदूर को या जरूरतमंद को सताने में पीछे नहीं हटते

- अपने माता पिता का  आदर नहीं करते हैं

- किसी भी इंसान का पैसा हड़पने में देर नहीं लगाते

- अमावस्या के दिन भी मांस मदिरा का सेवन करते हैं

- अपने घर के पश्चिम दिशा को  गंदा रखते हैं

- आपके घर की पश्चिम दिशा में पानी का टैंक बना हुआ है

- यदि आप का मुख्य द्वार पश्चिम दिशा का है और उसके आसपास आप गंदगी रखते हैं

- असहाय लोगों  का आप मजाक उड़ाते हैं

- घर के  नौकर /नौकरानी  का समय पर आप पैसा नहीं देते हैं

2. शनि की पूजा पाठ करते समय क्या-क्या सावधानियां बरतें-

- शनिदेव की पूजा हमेशा सूर्योदय से पहले करें या सूर्यास्त के बाद करें

- शनिदेव की पूजा में हमेशा साफ सुथरे कपड़े पहन कर और नहा धोकर ही करें

- शनिदेव की पूजा पाठ में हमेशा सरसों के तेल या तिल के तेल का प्रयोग करें

- शनिदेव की पूजा हमेशा शांत मन से करें

-  पूजा में काले या नीले रंग के आसन का इस्तेमाल करें

-  हो सके तो शनि की पूजा पीपल के पेड़ के नीचे करें

3.  नौकरी /व्यापार में अगर परेशानी है तो करें ये उपाय

- ॐ शं  शनिश्चराये नमः  मंत्र का शाम को सूर्यास्त के बाद 3 माला रुद्राक्ष की माला से  जाप करें  ऐसा लगातार 40 दिन तक करें

4- बीमार यदि रहते हैं आप और दवा काम नहीं करती है तो करें ये उपाय

- शनिवार के दिन सूर्य उदय होने से पहले उठे नहा धोकर साफ कपड़े पहने

-पीपल के पेड़ के नीचे तिल के तेल का दीया जरूर जलायें

- बीमार लोगों को दवा वस्त्र भोजन का दान करें

-  रोजाना एक अच्छा काम करने की आदत डाले

5. शनिदेव के 10 नाम बनाएंगे बिगड़े काम..

- कोणस्थ

- पिंगल

-  बभ्रु

- कृष्ण

-  रौद्रान्तक

- अंतक

-  शौरी

- शनेश्चर

-  यम

- पिप्पलाद

  -शनि देव के इन 10 नामों को सूर्य उदय होने से पहले पढ़ें

- काले या नीले आसन पर बैठकर तिल के तेल का दिया जलाएं

- पश्चिम दिशा की तरफ मुंह करें

-  अब लगातार 11 बार इन नामों का पाठ करें ऐसा सुबह और शाम लगातार 27 दिन करें

-अपनी समस्या के लिए शनिदेव से प्रार्थना करें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay