एडवांस्ड सर्च

इस वैशाख के महीने में खूब खाएं खरबूजा, और दान भी करें

वैशाख मॉस में सूर्य और हिंदी कैलेंडर में वैशाख का महीना बहुत पवित्र माना गया है. हिंदी का वैशाख मास चल रहा है. हिंदी के साल सम्वत 2075 के राजा सूर्य है. वैशाख का पवित्र महीना रविवार से शुरू हुआ है.

Advertisement
aajtak.in
रोहित 08 April 2018
इस वैशाख के महीने में खूब खाएं खरबूजा, और दान भी करें प्रतीकात्मक तस्वीर

वैशाख मास में सूर्य और खरबूजा किस्मत चमका देगा. आपको धन, दौलत, मकान मान-सम्मान और ऐश्वर्य मिलेगा. हिंदी के साल सम्वत 2075 का राजा सूर्य है. पवित्र मास वैसाख पर सूर्य का बहुत प्रभाव होता है. वैशाख मास में गंगा नहाया जाता है. तभी सूर्य पूजा और खरबूजा की पूजा की जाती है. खरबूजा का दान भी लोग इस महीने में करते है.

वैशाख मॉस में सूर्य और हिंदी कैलेंडर में वैशाख का महीना बहुत पवित्र माना गया है. हिंदी का वैशाख मास चल रहा है. हिंदी के साल सम्वत 2075 के राजा सूर्य है. वैशाख का पवित्र महीना रविवार से शुरू हुआ है.

वैशाख मास में 5 रविवार पड़ें है. 8 अप्रैल को दूसरा रविवार पड़ा है. सूर्य के स्वामी देव विष्णु भगवान् बहुत लाभ देने वाले हैं. सूर्य, विष्णु देव और खरबूजे की पूजा करनी होगी.

चारों दिशाओं से लाभ ही लाभ होगा-

यह वैशाख मास 30 अप्रैल वैशाख पूर्णिमा तक चलेगा. इस अवधि में खरबूजा पास रखकर पूजा करेंगे. खरबूजा का दान देकर लाभ उठाएं. खरबूजा खाकर अपनी किस्मत चमकाएं और सेहत भी बनाएं. वैशाख मास विशाखा नक्षत्र से बना है. विशाखा नक्षत्र धन दौलत ऐश्वर्य देता है.

इस रविवार को सूर्य देंगे तीन गुना धन लाभ-

सूर्य इस साल के राजा हैं, सूर्य बलवान है. व्यापार का सामान, सोना, चांदी, जमीन, मकान, वाहन खरीदने से या योजना बनाकर सिर्फ एडवांस देने मात्र से काम बनेगा. उसी काम से बाद में तीन गुना लाभ मिलेगा. इसलिए इस रविवार का बहुत बड़ा महत्व हो गया है. रविवार को कोई भी खरीददारी करने से पहले उपाय करें.

उपाय-

गंगा जल डाल कर स्नान करें. सूर्य को गुड़ वाला जल चढ़ाएं. विष्णु भगवान को खरबूजा चढ़ाएं. पीले फूल, लडडू, चंदन, चावल और हल्दी चढ़ाकर विष्णु देव की पूजा करें. किसी धार्मिक स्थल पर खरबूजे का दान करें

पांच मीठा पान दान करें और खुद भी एक मीठा पान खाएं.

सूर्य और विष्णु जी धन, संतान का सुख और पति का सुख देते हैं-

वैशाख मास में मीठे खरबूजे को घर में रखकर दान करके और खाकर धन ,संतान का सुख और पति की उन्नत्ति का सुख प्राप्त कर सकते है. पीले खरबूजे को ही गुरु ग्रह का कारक माना गया है. कहते है जहां खरबूजे की सुगंध होती है वहां मां विष्णु जी और लक्ष्मी खिंची चली आती हैं.

सुबह तड़के गंगा जल डालकर स्नान करें. साबुन शैम्पू, तेल का प्रयोग बिलकुल ना करें. जल में काले तिल मिला सकते हैं. इस जल से स्नान करके सफेद वस्त्र धारण करें. खरबूजा का फल लाल फूल बर्फी की मिठाई से विष्णु पूजा करें. दक्षिणा चढ़ाकर धूप दीपक से आरती करें. मन्त्र जाप- ॐ लक्ष्मी प्रियाय नमः.

खरबूजे के बीज के 6 फायदे, क्या जानते हैं आप...

खरबूजा खाने से सुंदरता बढ़ती है क्योंकि स्किन को विटामिन C और प्रोटीन की खुराक मिलती है. जो सेल्स और टिश्यू की मरम्मत करते रहते हैं. इससे त्वचा सुन्दर और चमकदार बनती है. खरबूजे में पोटैशियम होता है जो स्ट्रेस को कम करता है और दिल की धड़कन को सामान्य करके दिमाग में ऑक्सीजन पहुंचाता रहता है जिससे तनाव दूर हो जाता है.

महिलाओं और कन्याओं का सच्चा मित्र है खरबूजा-

जिन महिलाओं की खून की कमी होती है. मुश्किल भरे दिन में बहुत कमज़ोरी महसूस करती है. बहुत थकान होती है. ऐसी कन्याओं और महिलाओं को खरबूजा खाते रहना चाहिए. क्योंकि खरबूजा हैवी फ्लो और क्लॉट्स को कम करता है. और शरीर में ताकत और फुर्ती बनाए रखता है और खून की कमी नहीं होने देता. खरबूजा खाने से शरीर का वजन कंट्रोल में रहता है मोटापा नहीं बढ़ता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay