एडवांस्ड सर्च

Advertisement

जानें, ग्रहों से किस तरह प्रभावित होता है जीवन?

ग्रह व्यक्ति के जीवन को कई तरह से प्रभावित करते हैं. आइए जानते हैं ग्रहों का मन से क्या संबंध है और इससे व्यक्ति के मन पर कैसा असर पड़ता है.
जानें, ग्रहों से किस तरह प्रभावित होता है जीवन? प्रतीकात्मक फोटो
aajtak.in [Edited by: नेहा फरहीन]नई दिल्ली, 10 September 2018

चंद्रमा को मुख्य रूप से मन का ग्रह माना जाता है. इसके अलावा बुध भी बहुत हद तक मन को प्रभावित करता है. कर्क, वृश्चिक और मीन राशि का संबंध भी मन से ही होता है. कुंडली का चतुर्थ और पंचम भाव भी मन से संबंध रखता है. कभी-कभी तिथियों और नक्षत्रों का भी मन पर असर पड़ता है.

कब मन की स्थिति में उतार चढ़ाव होता है ?

- कुंडली में चंद्रमा या बुध के कमजोर होने पर.

- चंद्रमा के उच्च राशि में होने पर.

- केंद्र स्थानों के खाली होने पर.

- खान-पान की आदतें खराब होने पर.

- नींद की गड़बड़ी होने पर.

- हाथ में रेखाओं का जाल होने पर.

कब मन की स्थिति सामान्यतः अच्छी रहती है?

- चंद्रमा के शुभ ग्रहों के प्रभाव में होने पर.

- जब बुध के मजबूत होता है.

- केंद्र में शुभ ग्रहों के होने पर.

- बृहस्पति के विशेष मजबूत होने पर.

- ध्यान या उचित मंत्र जाप करने पर.

- खान-पान, जीवनचर्या सही रखने पर.

मन को मजबूत करने के उपाय क्या हैं ?

- नियमित रूप से सूर्य को जल अर्पित करें.

- गायत्री मंत्र का प्रातः और सायंकाल जाप करें.

- आहार को सादा और सात्विक रखें.

- एकादशी का उपवास जरूर रखें.

- सलाह लेकर एक मोती या पन्ना धारण करें.

- नित्य सोने के पूर्व कुछ समय ध्यान या प्रार्थना करें.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay