एडवांस्ड सर्च

मेंढक की शादी, गिद्धों का अंतिम संस्कार, बारिश के लिए क्या-क्या नहीं करते हैं लोग

देश के कई हिस्सों में भारी बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात हैं तो बहुत से इलाके अभी भी बारिश का इंतजार कर रहे हैं. देश के अलग अलग इलाकों में बारिश के कई टोटके भी किए जाते हैं. ये परंपरा काफी वक्त से है. हालांकि कई टोटके काफी अजीबोगरीब हैं.

Advertisement
aajtak.inनई दिल्ली, 09 July 2019
मेंढक की शादी, गिद्धों का अंतिम संस्कार, बारिश के लिए क्या-क्या नहीं करते हैं लोग प्रतीकात्मक फोटो (AP Image)

देश के कई हिस्सों में भारी बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात हैं तो बहुत से इलाके अभी भी बारिश का इंतजार कर रहे हैं. देश के अलग अलग इलाकों में बारिश के कई टोटके भी किए जाते हैं. ये परंपरा काफी वक्त से है. हालांकि कई टोटके काफी अजीबोगरीब हैं.

इन टोटकों में लोग अच्छी बारिश के लिए कभी कीचड़ में लोटते नजर आते हैं तो कभी मेढक से शादी करवाने के मामले सामने आते हैं. आइए जानते हैं बारिश के लिए होने वाले वाले ऐसे ही कुछ अजीबोगरीब टोटकों के बारे में.

कुत्ते और कुतिया की शादी-

इंदौर के मूसाखेड़ी इलाके में अच्छी बारिश के लिए लोगों ने यहां कुत्ते और कुतिया की प्रतीकात्मक शादी रचा दी थी. इस  अजीबोगरीब शादी करवाने वाले लोगों का मानना था कि उनका यह टोटका इंद्र देव को प्रसन्न करेगा और अच्छी बारिश होगी.

 मेंढक की शादी-

कई ग्रामीण क्षेत्रों में अल्प वर्षा की स्थिति से बचने के लिए मेंढकों की शादी करवाई जाती है. इस प्रचलित टोटके के पीछे मान्यता है कि ऐसा करने से अच्छी वर्षा होती है.

शिवलिंग को डुबोया जाता है पानी के अंदर-

अच्छी बारिश के लिए कुछ जगहों पर लोग भगवान शिव के मंदिर में जाकर शिवलिंग को पूरी तरह पानी में डुबो देते हैं.  ऐसी मान्यता है कि शिवलिंग को पानी में डुबोने से महादेव उस जगह अच्छी बारिश करवाते हैं.

मिट्टी में बच्‍चे-

यूपी के प्रयागराज में के पास नारी बारी नाम के एक गांव में बच्‍चे अर्धनग्‍न होकर गिली मिट्टी में हाथ जोड़ कर लेट जाते हैं और भगवान से बारिश करने के लिए प्रार्थना करते हैं.

गिद्धों का अंतिम संस्कार-

देश के कुछ क्षेत्रों में सूखे की स्थिति से बचने के लिए लोग गिद्धों का अंतिम संस्कार तक कर देते हैं. इस टोटके को लेकर मान्यता है कि गिद्धों का अंतिम संस्कार करने से अच्छी वर्षा होती है.

सिर के बाल कटवाकर हो जाते हैं पूरे गंजे-

गर्मी और सूखे से निजात पाने के लिए पूर्वी द्वीप समूह के कई लोग अपने सिर के बाल कटवाकर गंजे हो जाते हैं. गंजे होने के बाद ये लोग यही नहीं रुकते, ये लोग बारिश करवाने के लिए किसी ऊंची पहाड़ी पर चढ़कर पत्थर फेंकते हैं. यहां के लोगों का मानना है कि ऐसा करने से जल्दी बारिश हो जाती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay