एडवांस्ड सर्च

शरद पूर्ण‍िमा: चंद्रमा की करें पूजा, इस मंत्र के जाप से शरीर का हर कष्ट दूर

आज शरद पुर्ण‍िमा है और आज की रात चंद्रमा की पूजा बेहद शुभ मानी जाती है. जानिये चंद्रमा के पूजन से क्या लाभ होगा और किस मंत्र के जाप से सारी मनोकामनाएं पूरी होंगी...

Advertisement
Sahitya Aajtak 2018
aajtak.in[Edited By: वंदना भारती]नई दिल्ली, 05 October 2017
शरद पूर्ण‍िमा: चंद्रमा की करें पूजा, इस मंत्र के जाप से शरीर का हर कष्ट दूर moon

प्राचीन काल से ही शरद पूर्णिमा को बेहद महत्वपूर्ण पर्व के रूप में मनाया जाता रहा है. इस दिन जहां एक ओर मां लक्ष्मी धनवर्षा करती हैं, वहीं कुछ विशेष उपायों से सेहत की समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है.

अच्छी सेहत के लिए क्या करें ?

- रात के समय स्नान करके गाय के दूध में घी मिलाकर खीर बनाएं.

- भगवान कृष्ण की विधिवत उपासना करके उन्हें खीर का भोग अर्पित करें.

- मध्य रात्रि में जब चन्द्रमा पूर्ण रूप से उदित हो जाएं तब उनकी उपासना करें.

- फिर चन्द्रमा के मंत्र "ॐ सोम सोमाय नमः" का जाप करें.

- खीर को चन्द्रमा की रौशनी में रख दें.

- खीर को कांच, मिट्टी या चांदी के पात्र में ही रखें, अन्य धातुओं का प्रयोग कतई ना करें.

- सुबह जितनी जल्दी इस खीर का सेवन करें उतना ही उत्तम होगा.

- इस खीर का सेवन भोर में सूर्योदय के पूर्व किया जाय तो उत्तम फलदाई होगी.

शरद पूर्णिमा व्रत कथा

कथानुसार एक साहूकार की दो बेटियां थी और दोनों पूर्णिमा का व्रत रखती थी. बड़ी बेटी ने विधिपूर्वक व्रत को पूर्ण किया और छोटी ने व्रत को अधूरा ही छोड़ दिया. फलस्वरूप छोटी लड़की के बच्चे जन्म लेते ही मर जाते थे. एक बार बड़ी लड़की के पुण्य स्पर्श से उसका बालक जीवित हो गया और उसी दिन से यह व्रत विधिपूर्वक पूर्ण रूप से मनाया जाने लगा. इस दिन माता महालक्ष्मी जी की पूजा की जाती है. मान्यता है कि इस दिन विधिपूर्वक व्रत करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay