एडवांस्ड सर्च

Advertisement

जानें शारदीय नवरात्रि के बाद 10वें दिन ही क्यों मनाते हैं दशहरा?

aajtak.in
08 October 2019
जानें शारदीय नवरात्रि के बाद 10वें दिन ही क्यों मनाते हैं दशहरा?
1/8
हिन्दू धर्म में दशहरा का विशेष महत्व है. शारदीय नवरात्रों के 10वें दिन यानि विजयादशमी को दशहरा मनाया जाता है.
जानें शारदीय नवरात्रि के बाद 10वें दिन ही क्यों मनाते हैं दशहरा?
2/8
नवरात्रि के दिनों में नौ दिनों तक मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्वरूपों की पूजा होती है.
जानें शारदीय नवरात्रि के बाद 10वें दिन ही क्यों मनाते हैं दशहरा?
3/8
लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि नवरात्र‍ि के दसवें दिन दशहरा क्यों मनाते हैं? आइए जानते हैं.
जानें शारदीय नवरात्रि के बाद 10वें दिन ही क्यों मनाते हैं दशहरा?
4/8
ऐसी मान्यता है कि शारदीय नवरात्र की शुरुआत भगवान राम ने की थी.
जानें शारदीय नवरात्रि के बाद 10वें दिन ही क्यों मनाते हैं दशहरा?
5/8
भगवान राम ने सबसे पहले समुद्र के किनारे शारदीय नवरात्रों की पूजा की शुरुआत की.
जानें शारदीय नवरात्रि के बाद 10वें दिन ही क्यों मनाते हैं दशहरा?
6/8
राम ने लगातार 9 दिनों तक शक्त‍ि की पूजा की थी और तब जाकर उन्होंने लंका पर जीत हासिल की थी.
जानें शारदीय नवरात्रि के बाद 10वें दिन ही क्यों मनाते हैं दशहरा?
7/8
9 दिनों की पूजा के बाद दसवें दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था. यही वजह है कि शारदीय नवरात्रों में नौ दिनों तक दुर्गा मां की पूजा के बाद दसवें दिन दशहरा मनाया जाता है.
जानें शारदीय नवरात्रि के बाद 10वें दिन ही क्यों मनाते हैं दशहरा?
8/8
इसलिए इसे विजयादशमी भी कहते हैं. माना जाता है कि अधर्म की धर्म पर जीत, असत्‍य की सत्‍य पर जीत के लिए 10वें दिन दशहरा मनाते हैं.
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay