एडवांस्ड सर्च

जानें, कब है बसंत पंचमी का त्योहार?

बसंत पंचमी 2019 (Basant Panchami 2019): बसंत पंचमी का त्योहार इस बार दो दिन मनाया जाएगा. जानिए, कब कहां मनेगी बसंत पंचमी.

Advertisement
aajtak.in
प्रज्ञा बाजपेयी नई दिल्ली, 05 February 2019
जानें, कब है बसंत पंचमी का त्योहार? बसंत पंचमी 2019: दो दिन होगी सरस्वती पूजा

बसंत पंचमी का त्यौहार आने वाला है. भारतवर्ष में दो दिन वसंत पंचमी मनेगी. दो दिन सरस्वती पूजा होगी. विद्यार्थी दो दिन पूजा करें. दो दिन की वसंत पंचमी होगी और उनकी पढ़ाई अच्छी हो जाएगी. पूर्वी भारत में पूजा 10 फरवरी रविवार को होगी और पश्चिमी भारत में 9 फरवरी शनिवार को मनाएंगे. अच्छी पढ़ाई के लिए छोटे छोटे उपायों से पढ़ाई अच्छी हो सकती है. वसंत पंचमी में शनिवार को मां सरस्वती की पूजा होगी.

9 फरवरी शनिवार को कहां मनेगी वसंत पंचमी?

9 फरवरी शनिवार को दिल्ली, पंजाब, जम्मू, हिमाचल, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, राजश्थान, पश्चिमी मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, गुजरात, पश्चिमी महाराष्ट्र कर्नाटक.

10 फरवरी शनिवार को कहां मनेगी वसंत पंचमी?

पूर्वी उत्तर प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश, बिहार, बंगाल, झारखण्ड, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और पूर्वी महाराष्ट्र

वसंत पंचमी पर ग्रह को भी बलवान करना है और बहुत सारे उपाय करने हैं. डॉक्टर, इंजीनियर,  टीचर, प्रोफेसर, अकाउंटेंट, सरकारी नौकरी, कम्प्यूटर विशेषज्ञ बनने के लिए अलग अलग उपाय करें.

डॉक्टर बनने का उपाय-

गुरु ग्रह और सूर्य डॉक्टर बनाता है. पीले वस्त्र पहनें, केसर या हल्दी का तिलक लगाएं. मां सरस्वती को केले चढ़ाकर, केले का दान करें.

 

अगर आप इंजीनियर, टीचर, प्रोफेसर, CA बनना चाहते है तो क्या करें

बुध ग्रह इंजीनियर, अकाउंटेंट, बैंक मैनेजर बनाता है, गणेशजी और मां सरस्वती को दूर्वा घास की माला चढ़ाएं. हरे अमरूद चढ़ाकर बांटें. मां सरस्वती को मूंग के हलवे का भोग लगाएं

और प्रसाद बांटे.

सरकारी नौकरी के लिए उपाय करें

सूर्य बलवान हो तो सरकारी नौकरी मिलती है, सरकारी अधिकारी बनते हैं. बृहस्पति बलवान हो तो शिक्षा के क्षेत्र में सफलता मिलती है. मंगल बलवान हो तो पुलिस या सेना में सरकारी नौकरी

मिलती है. सरस्वती पूजा के दिन मां सरस्वती को गाजर, शकरकंद, लाल सेब और बेर चढ़ाएं और इन सब का प्रसाद बांटकर खुद भी सेवन करें.

अगर आप ऐक्टिंग कलाकार या गायिका बनना चाहते हैं तो क्या करें

बुध, शुक्र ग्रह किसी को गायक, गायिका, अभिनेता बनाते हैं. मां सरस्वती को छोटी इलाइची की माला, हरे धागे में पिरोकर पहनाएं. मां सरस्वती को बताशे, दूध से बनी हुई मिठाई चढ़ाएं.

आप व्यापारी बनना चाहते है तो क्या करें

बुध और शुक्र बड़ा व्यापारी और धनवान बनाता है. गणेशजी और माँ सरस्वती को बेल पत्र की माला बनाकर चढ़ाएं. मां सरस्वती को हरा सेब, पिस्ता और अनानास का भोग लगाकर

प्रसाद बांटें. अनामिका ऊंगली में पंचधातु की एक अंगूठी पहनें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay