एडवांस्ड सर्च

किम जोंग उन ने पांच अधिकारियों को दी खौफनाक सजा, बने 'आदमखोर मछलियों' का शिकार

किम जोंग उन.. आज के दौर में यूं तो खौफ पैदा करने के लिए इस इंसान का नाम ही काफी है. मगर फिर भी इसकी अक्सर ये कोशिश रहती है कि दुनिया में इसका दबदबा कम ना होने पाए. क्योंकि डर खत्म हो गया तो कोरिया में इसके लिए सल्तनत कायम रखना भी मुश्किल हो जाएगा.

Advertisement
aajtak.in [Edited by: परवेज़ सागर]नई दिल्ली, 14 June 2019
किम जोंग उन ने पांच अधिकारियों को दी खौफनाक सजा, बने 'आदमखोर मछलियों' का शिकार किम की इस करतूत का खुलासा एक विदेशी समाचार पत्र ने किया है

तारीख के पन्ने ऐसे हज़ारों तानाशाहों के नामों से भरे हुए हैं.. जिन्होंने गद्दी के लिए अपने बाप, भाई और रिश्तेदारों तक को मरवा दिया. अब अगर ऐसे किसी तानाशाह की गद्दी पर उसका कोई अधिकारी नज़र गड़ाए तो ज़रा सोचिए कि ये उनका क्या हश्र करेंगे. ज़ाहिर है उसे ऐसी ख़ौफ़नाक मौत दी जाएगी कि लोग उसके बारे में सुन कर ही कांप उठें. आपने ऐसे तमाम क्रूर तरीकों के बारे में सुना भी होगा. मगर क्या कभी ये भी सुना है कि किसी को मारने के लिए उसे एक्वेरियम में पिरान्हा मछलियों के सामने फिंकवा दिया जाए. नहीं? तो अब सुनिए, ये क्रूर सज़ा उत्तर कोरिया के राष्ट्राध्यक्ष किम जोंग उन ने अपने 5 अधिकारियों को दी है.

किम जोंग उन.. आज के दौर में यूं तो खौफ पैदा करने के लिए इस इंसान का नाम ही काफी है. मगर फिर भी इसकी अक्सर ये कोशिश रहती है कि दुनिया में इसका दबदबा कम ना होने पाए. क्योंकि डर खत्म हो गया तो कोरिया में इसके लिए सल्तनत कायम रखना भी मुश्किल हो जाएगा. और उत्तर कोरिया में तो इसके एक जनरल ने इसकी ही सत्ता पलटने की साजिश रच डाली. किम की सल्तनत में शायद इससे बड़ी गलती हो ही नहीं सकती. ज़ाहिर है किम जोंग को अपने इस जनरल को ऐसी सज़ा देनी थी कि फिर कोई ऐसा करने की सपने में भी ना सोच पाए.

लिहाज़ा अपने जनरल की गद्दारी की सज़ा तय करने में किम जोंग उन ने वक्त लिया. और वो तमाम फिल्में देखी जिसमें मौत देने के लिए क्रूर से क्रूर तरीके अपनाए गए. तब जाकर उसकी नज़र 1965 में रिलीज़ हुई जेम्स बॉन्ड की यू ओनली लिव ट्वाइस फिल्म पर टिकी. जिसमें एक महिला को मौत देने के लिए उसे पिरान्हा मछलियों भरे टैंक में फेंक दिया जाता है. जहां अपने नुकीले तेज़ दांतों से पिरान्हा मछलियां वो कर देती हैं जिसके बारे में कोई सपने में भी नहीं सोच सकता.

सबसे पहले जानिए ये पिरान्हा मछली आखिर किस बला का नाम है. पिरान्हा मछलियां दुनिया की सबसे खतरनाक मछलियों में शुमार हैं. जिनके दांत इस कदर पैने होते हैं कि एक पूरे इंसान को खा जाने में उन्हें चंद सेकंड्स का ही वक्त लगता है. ये मछलियां कितनी खतरनाक और खूंखार हैं ये आप इनके दांतों को देख कर अंदाज़ा लगा सकते हैं. जिस पानी में ये मछलियां होती हैं. वहां कोई और पानी का जीव बच नहीं पाता. और तो और ये मछलियां इंसानों को खाने में भी गुरेज़ नहीं करती हैं. और इन्हीं मछलियों से भरे एक टैंक में उत्तर कोरिया के मार्शल किम जोंग उन ने अपने जनरल को डालकर उसे उसकी गद्दारी की सज़ा दी है. आपको भले इस खबर पर यकीन करने में वक्त लगे मगर ये किम जोंग उन है. ये अपनी सल्तनत के गद्दारों को बख्शता नहीं है. और ना ही इसके पास गलती करने वालों के लिए माफी की कोई गुंजाइश नही है.

उत्तरकोरिया के मार्शल किम जोंग उन ने जेम्स बांड की इस फिल्म से प्रेरित होकर उसका तख्तापलट की योजना बना रहे अपने जनरल को इन आदमखोर मछलियों के टैंक में फिकवाकर दी ये रुह कंपाने वाली मौत. ये दावा ब्रिटेन के एक टेब्लॉयड न्यूज़ पेपर डेली स्टार ने किया है कि किम ने वफादारी पर शक होने की वजह से अपने जनरल को पिरान्हा मछली से भरे तालाब में फेंकवा दिया है.

इतना ही नहीं डेली स्टार का दावा है कि किम ने प्योंगयोंग के अपने रॉन्गसॉन्ग बंगले में एक बड़ा तालाब बनवा रखा है. जिसमें पिरान्हा मछलियां पली हुई हैं. और माना जा रहा है कि किम ने इसी तालाब में अपने जनरल को ज़िंदा फेंक दिया. एक और थ्योंरी ये है कि उसने अपने जनरल के हाथ-पैर कटवाकर तालाब में फेंकवा दिए. और उसके जनरल की लाश के साथ बाकी की क्रूरता पिरान्हा मछलियों ने अंजाम दी.

हालांकि जनरल की मौत पिरान्हा मछलियों के हमले से हुई या पहले ही उन्हें मारकर इनके तलाब में फेंका गया. अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है. सुनने में ये खबर नाकाबिले यकीन लगती है मगर उत्तर कोरिया के मार्शल किम जोंग उन की बर्बरता का जैसा इतिहास रहा है उसे देखते हुए ये मुमकिन भी है. इसी ब्रिटिश अखबार ने दावा किया है कि किम के घर में बने टैंक में सैकड़ों की तादादा में ये पिरान्हा मछलियां ब्राजील से मंगवाई गई हैं.

इससे पहले भी कई बार अधिकारियों को मौत की सजा देने की खबर नॉर्थ कोरिया से आती रही हैं. लेकिन कुछ मौकों पर ऐसी रिपोर्टें गलत भी साबित हुई हैं और जिनके बारे में मृत होने का दावा किया गया वो दोबारा सबके सामने भी आ चुके हैं. यही नहीं अमेरिका के साथ समझौता नहीं हो पाने के बाद नॉर्थ कोरियाई शासक किम जोंग उन के अपने 16 उच्च अधिकारियों को मौत की सजा देने की खबर भी कुछ वक्त पहले सामने आई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay