एडवांस्ड सर्च

मनोकामना पूर्ति के लिए भोलेनाथ को चढ़ाएं अलग-अलग पुष्‍प

भगवान शिव अपने भक्तों पर जल्द प्रसन्न हो जाते हैं. जटाधारी शिव शंकर को प्रसन्न करने में किसी भी मनुष्य को कठिनाईयों का सामना नहीं करना पड़ता है. आइए जानते हैं भगवान शिव की पूजा में कौन से पुष्प अर्पित करने चाहिए.

Advertisement
aajtak.in
प्रज्ञा बाजपेयी नई दिल्ली, 13 April 2018
मनोकामना पूर्ति के लिए भोलेनाथ को चढ़ाएं अलग-अलग पुष्‍प भगवान शिव की पूजा

भगवान शिव अपने भक्तों पर जल्द प्रसन्न हो जाते हैं. जटाधारी शिव शंकर को प्रसन्न करने में किसी भी मनुष्य को कठिनाईयों का सामना नहीं करना पड़ता है. आइए जानते हैं भगवान शिव की पूजा में कौन से पुष्प अर्पित करने से मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं.

वाहन सुख के लिए शिव पर चमेली का फूल चढ़ाएं. दौलतमंद बनने के लिए कमल का फूल, शंखपुष्पी या बिल्वपत्र चढ़ाएं. विवाह में समस्या दूर करने के लिए बेला के फूल को भगवान शिव को अर्पित करें. इससे योग्य वर-वधू मिलते हैं.

पुत्र प्राप्ति के लिए धतुरे का लाल फूल वाला धतूरा शिव को चढ़ाएं. यह न मिलने पर सामान्य धतूरा ही चढ़ाएं. मानसिक तनाव दूर करने के लिए शिव को शेफालिका के फूल चढ़ाएं. जूही के फूल को अर्पित करने से अपार अन्न-धन की कमी नहीं होती.

अगस्त्य के फूल से शिव पूजा करने पर पद, सम्मान मिलता है. शिव पूजा में कनेर के फूलों के अर्पण से वस्त्र-आभूषण की इच्छा पूरी होती है. लंबी आयु के लिए दुर्वाओं से शिव पूजन करें. सुख-शांति और मोक्ष के लिए महादेव की तुलसी के पत्तों या सफेद कमल के फूलों से पूजा करें.

अनाज से भी शिव होते हैं प्रसन्न

शिव की पूजा में गेहूं से बने व्यंजन चढ़ाने पर कुंटुब की वृद्धि होती है. मूंग से शिव पूजा करने पर हर सुख और ऐश्वर्य मिलता है. चने की दाल अर्पित करने पर श्रेष्ठ जीवन साथी मिलता है. कच्चे चावल अर्पित करने पर कलह से मुक्ति और शांति मिलती है. तिलों से शिवजी पूजा और हवन में एक लाख आहुतियां करने से हर पाप का अंत हो जाता है. उड़द चढ़ाने से ग्रहदोष और खासतौर पर शनि पीड़ा शांति होती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay