एडवांस्ड सर्च

पति ने ही पत्नी को देह व्यापार के दलदल में धकेला

बिहार के भागलपुर में एक शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है. जहां एक पति ने पैसे के लालच में अपनी पत्नी को ही जिस्मफरोशी के धंधे में धकेल दिया. इससे पहले आरोपी पति ने खुद को बेगुनाह साबित करने की नाकाम कोशिश भी की. लेकिन पुलिस ने मामले का पर्दाफाश कर दिया.

Advertisement
aajtak.in
परवेज़ सागर/ सुजीत झा भागलपुर, 19 October 2016
पति ने ही पत्नी को देह व्यापार के दलदल में धकेला पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है

बिहार के भागलपुर में एक शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है. जहां एक पति ने पैसे के लालच में अपनी पत्नी को ही जिस्मफरोशी के धंधे में धकेल दिया. इससे पहले आरोपी पति ने खुद को बेगुनाह साबित करने की नाकाम कोशिश भी की. लेकिन पुलिस ने मामले का पर्दाफाश कर दिया.

मोतिहारी केसरिया के गाजपुर निवासी शिवनाथ की शादी सेवानिवृत बैंककर्मी की बेटी के साथ हुई थी. महिला की यह दूसरी शादी थी. महिला मंगलवार को पुलिस के पास पहुंची. उसने पुलिस को बताया कि वह बदमाशों के चंगुल से भागकर आई है. जो उससे देह व्यापार करा रहे थे. उसके पति शिवनाथ ने दलालों से उसका सौदा किया था.

महिला ने पुलिस को बताया कि तथाकथित पत्रकार मणिकांत ने उस महिला को जिस्सफरोशी का धंधा करने पर मजबूर किया. उसे पटना से रांची और फिर भागलपुर में कई लोगों के सामने परोसा गया. महिला की आपबीती सुनकर पुलिस वाले भी हैरान रह गए. और उसकी निशानदेही पर छापा मारकर तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

एसएसपी मनोज कुमार ने बताया कि भागलपुर के शीतला स्थान दाल मिल रोड पर एक किराए के मकान में देह व्यापार का धंधा कराया जाता था. पीड़ित महिला के बयान के आधार पर उस मकान पर छापा मारा गया. वहां से गुंजन चौबे, संतोष चौबे और तथाकथित पत्रकार मणिकांत को गिरफ्तार किया गया. तब पता चला कि साजिश में महिला का पति भी शामिल था.

पुलिस ने उस माकन से आपत्तिजनक सामान बरामद किया. साथ ही नगदी, शराब की बोतले, पासबुक, पैन कार्ड आदि भी बरामद किए हैं. पुलिस के मुताबिक सिलाई सेंटर चलाने के नाम पर मकान किराए पर लिया गया था. कुछ माह पहले शिवनाथ किसी काम से बाहर गया था.

इस दौरान उसका एक परिचित बीती 28 जुलाई के दिन उसकी पत्नी को बाजार घुमाने के बहाने पोस्टल पार्क स्थित संजय के घर ले गया. जहां सोनी, संजय और मणिकांत उर्फ धन्नो पहले से ही मौजूद थे. वहां उसके साथ जबरन बलात्कार किया गया था.

उसे डराया गया कि उसके पति को हत्या के एक मामले में पुलिस पकड़कर ले गई है और पुलिस उसे भी खोज रही है. बसी इसी बात डर दिखाकर उसे ब्लैकमेल किया जाता रहा. लेकिन मंगलवार को वह किसी तरह से भागकर पुलिस के पास जा पहुंची और गैंग का खुलासा हो गया.

एसएसपी मनोज कुमार ने बताया कि पीड़ित महिला को पटना से रांची स्थित रजनीकांत पांडेय के घर ले जाया गया था. वहां भी उसका शारीरिक शोषण हुआ. उसके बाद मणिकांत ने पीड़ित महिला को भागलपुर मिरजानहाट स्थित शीतला स्थान दाल मिल रोड पर एक महिला के हाथों बेच दिया था. तभी जबरन उससे देह व्यापार कराया जा रहा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay