एडवांस्ड सर्च

मध्य प्रदेशः पुलिस ने कराया प्रेमी-युगल का विवाह, थाने में बजी शहनाई

भीमकुंड निवासी अजब राव उइके और चौपना गांव की निवासी प्रियंका काकोड़िया के बीच काफी समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा था. दोनों शादी करना चाहते थे, लेकिन दोनों के परिवार वाले इस रिश्ते के लिए तैयार नहीं थे.

Advertisement
aajtak.in [Edited by: परवेज़ सागर]बैतूल, 21 June 2019
मध्य प्रदेशः पुलिस ने कराया प्रेमी-युगल का विवाह, थाने में बजी शहनाई पुलिस ने मामले की जांच के बाद थाने में ही दोनों की शादी करा दी (सांकेतिक चित्र)

आम तौर पर पुलिस को कठोर दिल और बेरहम माना जाता है, लेकिन पुलिस का दिल भी नरम होता है. इसकी मिसाल देखने को मिली मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में. जहां पुलिसवालों ने मिलकर थाने में ही एक प्रेमी जोड़े की शादी करा दी. यह मामला अब चर्चाओं में बना हुआ है.

यह मामला बैतूल के भेंसदेही थाना क्षेत्र का है. दरअसल, भीमकुंड निवासी अजब राव उइके और चौपना गांव की निवासी प्रियंका काकोड़िया के बीच काफी समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा था. दोनों शादी करना चाहते थे, लेकिन दोनों के परिवार वाले इस रिश्ते के लिए तैयार नहीं थे.

बीते बुधवार को अचानक अजब और प्रियंका अपने घरों से गायब हो गए. घरवालों ने तलाश किया लेकिन वे नहीं मिले. प्रियंका के परिजनों ने थाने जाकर बेटी के अपहरण की शिकायत दर्ज करा दी. पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की. इस दौरान पुलिस को पता चला कि यह मामला अपहरण का नहीं बल्कि प्रेम-प्रसंग का है.

भेंसदेही थाने में महिलाओं की समस्या के निराकरण के लिए बनाई गई महिला उर्जा डेस्क की सेवंती परते ने शुक्रवार को IANS को बताया कि प्रियंका के परिजनों ने थाने में अपहरण की शिकायत दर्ज कराई थी. लेकिन जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि अजब और प्रियंका एक ही समाज के हैं. दोनों विवाह करना चाहते हैं.

लेकिन दोनों के परिवार राजी नहीं है. इस पर पुलिस ने दोनों परिवार के सदस्यों की काउंसिलिंग की और उन्हें शादी के लिए राजी किया. जब दोनों के परिवार मान गए तो इस शादी की तैयारी में भी पुलिस की अहम भूमिका देखने को मिली.

पुलिस थाना परिसर में ही गुरुवार को विवाह समारोह का आयोजन किया गया. वर-बधु ने एक दूसरे के गले में वरमाला डाली और पूरे विधि-विधान के साथ उनका विवाह संपन्न कराया गया. बाद में थाने से ही प्रियंका की विदाई हुई. इस मौके पर नव दंपत्ति को पुलिस की ओर से उपहार में पौधे दिए गए.

सब इंस्पेक्टर सेवंती परते के मुताबिक अजब राव महाविद्यालय में पढ़ा रहा है, वहीं प्रियंका 12वीं पास है. दोनों के परिवार के बीच इस रिश्ते को लेकर कई बार मारपीट भी हो चुकी थी. प्रियंका के परिजनों ने उसे नाबालिग बताते हुए अपहरण की शिकायत की थी, जबकि वह बालिग है. फिलहाल, अब पुलिस ने मामला सुलझा दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay