एडवांस्ड सर्च

ड्रामा, रोमांस, सस्पेंस, थ्रिलर और ट्रैजिडी से भरपूर शीना मर्डर मिस्ट्री

शीना मर्डर केस. इस कहानी में ड्रामा है, रोमांस है, ऐक्शन है, सस्पेंस है, थ्रिलर है और ट्रैजिडी भी. इस हाईप्रोफाइल केस में वो सब कुछ है, जिसकी बॉलीवुड के उन फिल्मकारों को तलाश होती है, जो थ्रिलर, सस्पेंस और मर्डर मिस्ट्री पर फिल्में बनाने का शौक रखते हैं.

Advertisement
aajtak.in
मुकेश कुमारनई दिल्ली, 21 September 2015
ड्रामा, रोमांस, सस्पेंस, थ्रिलर और ट्रैजिडी से भरपूर शीना मर्डर मिस्ट्री बॉलीवुड को रियल लाइफ की ऐसी ही आपराधिक कथाएं रास आती हैं.

शीना मर्डर केस. इस कहानी में ड्रामा है, रोमांस है, ऐक्शन है, सस्पेंस है, थ्रिलर है और ट्रैजिडी भी. इस हाईप्रोफाइल केस में वो सब कुछ है, जिसकी बॉलीवुड के उन फिल्मकारों को तलाश होती है, जो थ्रिलर, सस्पेंस और मर्डर मिस्ट्री पर फिल्में बनाने का शौक रखते हैं.

नोएडा के आरुषि हत्याकांड की तरह शीना मर्डर केस में भी एक बेटी की हत्या का मामला है. रिश्तों के ऐसे उलझे पेच हैं, जिसे सुलझाने में पुलिस को पसीना छूट रहा है. दिल्ली के जेसिका हत्याकांड की तरह इसमें भी कातिल हाईप्रोफाइल है. उसे सजा दिलवा पाना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है.

बॉलीवुड को रियल लाइफ की ऐसी ही आपराधिक कथाएं रास आती हैं, तभी तो फिल्मकार महेश भट्ट शीना हत्याकांड की दास्तान पर हैरान रह गए. महेश भट्ट की आने वाली फिल्म 'रात गुजरने वाली है' की कहानी शीना हत्याकांड की कहानी से पूरी तरह से मिलती जुलती है.

महेश भट्ट ने फिल्म की कहानी पिछले मई महीने में ही पूरी कर ली थी. इस संयोग पर महेश भट्ट कहते हैं, 'पीटर मुखर्जी जिस परेशानी भरे दौर से गुजर रहे हैं. उससे मुझे सहानुभूति है. यह उनकी परेशानी का फायदा उठाने का प्रयास नहीं है. ताज्जुब है कि मेरी फिल्म से ये कहानी मिल रही है.'

बॉलीवुड ने रियल लाइफ की मर्डर मिस्ट्री को रील लाइफ में कई बार उतारा है. ऐसी कहानियों पर बनी फिल्मों में कुछ आसानी तो होती है, कहानी मिल जाती है, प्लॉट मिल जाता है, फिल्म की रिलीज से पहले चर्चा मिल जाती है, फिर भी सच्ची आपराधिक कहानियों पर फिल्म बनाना बड़ी चुनौती भी है.

तलवार: आरुषि हत्याकांड
बताने की जरूरत नहीं है कि आने वाली फिल्म तलवार की ये कहानी कहां से निकली है. जी हां, 2008 में नोएडा के आरुषि हत्याकांड की कहानी पर ये फिल्म बनी है. एक हाईप्रोफाइल डॉक्टर दंपति की इकलौती बेटी, जिसका रात में खून हो जाता है, लेकिन उसके हत्यारा का वास्तविक पता नहीं चला.

पुलिस से लेकर सीबीआई तक आरुषि हत्याकांड की परतें उधेड़ने में चकरघिन्नी हो गए. फिलहाल हत्या के आरोप में आरुषि के पिता डॉ. राजेश तलवार और मां नूपुर तलवार डासना जेल में बंद हैं. उनकी बेटी की जिंदगी की कहानी रील लाइफ में ढलकर इसी महीने 2 अक्टूबर को बड़े परदे पर आ रही है.

नो वन किल्ड जेसिका
इसी तरह 2011 में रिलीज फिल्म नो वन किल्ड जेसिका भी दिल्ली के जेसिका मर्डर केस पर बनी थी. जेसिका लाल मॉडल थी. 29 अप्रैल, 1999 की रात दिल्ली के टैमरिंड कोर्ट रेस्टोरेंट में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

जेसिका का हत्यारा मनु शर्मा हरियाणा के कद्दावर कांग्रेसी नेता विनोद शर्मा का बेटा था. लिहाजा जेसिका लाल मर्डर केस में इंसाफ की राहें मुश्किल हो गईं. सात साल तक चले मुकदमे के बाद फरवरी 2006 में सभी आरोपी बरी हो गए.

मीडिया में मामला उछलने के बाद तो जेसिका लाल मर्डर केस में इंसाफ के लिए पूरी दिल्ली एक साथ आ गई. फास्टट्रैक कोर्ट में केस चला और हत्यारे मनु शर्मा को उम्र कैद की सजा सुनाई गई. सच्ची घटना पर आधारित फिल्म नो वन किल्ड जेसिका ने बॉक्स ऑफिस पर भी खूब धमाल मचाया.

नॉट ए लव स्टोरी
इसी तरह मुंबई के कुख्यात नीरज ग्रोवर हत्याकांड पर फिल्मकार राम गोपाल वर्मा ने नॉट ए लव स्टोरी बना डाली. नीरज ग्रोवर हत्याकांड ने एक वक्त में पूरे देश को दहला दिया था. 2008 में मुंबई में मॉडल और हीरोइन मारिया सुराइराज और उसके ब्वायफ्रेंड एमिल जेरोमी ने नीरज ग्रोवर की हत्या की थी.

हत्या के बाद इन दोनों ने नीरज के शव को टुकड़े टुकड़े करके जंगल में अलग अलग जगह फेंक दिया था. नीरज ग्रोवर हत्याकांड में एक थ्रिलर, सस्पेंस फिल्म का पूरा मसाला था, लिहाजा रामगोपाल वर्मा ने ये प्लॉट उठाने में देर नहीं की.

मोनिका की कहानी
2011 में आई फिल्म मोनिका की कहानी बहुचर्चित शिवानी भटनागर हत्याकांड से ली गई थी. फिल्म में मुख्य किरदार दिव्या दत्ता ने निभाया था, जबकि आशुतोष राणा इसमें राजनेता की भूमिका में थे. इस फिल्म ने भी खूब सुर्खियां बटोरी थीं.

बॉलीवुड में फिल्मकार अच्छी और नई कहानियों की तलाश में रहते हैं. ऐसे में कहीं शीना मर्डर केस की तरह कोई उलझी हुई अपराध कथा मिल जाए तो फिल्मकारों की तलाश को भी एक मंजिल मिल जाती है; और बॉलीवुड की थ्रिलर फिल्मों की कहानी बन जाती है.

डर्टी पॉलिटिक्स
फिल्म डर्टी पॉलिटिक्स राजस्थान के भंवरी देवी हत्याकांड पर बनी थी. भंवरी देवी का बड़े बड़े नेताओं से रिश्ते थे. लेकिन ये रिश्ते ही भंवरी देवी की जिंदगी के लिए काल बन गए. इसमें मल्लिका सहरावत ने भंवरी देवी और पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा की भूमिका अभिनेता ओमपुरी ने निभाई थी.
 
सच्ची घटनाओं पर बनी इन सभी फिल्मों की तरह ही शीना हत्याकांड में भी कुछ अलग तरह की कहानी है. चंद्रकांता और इंद्रजाल की कहानियों को मात देती है ये कहानी. इस कहानी में वो सारे मसाले हैं, बॉलीवुड को जिनकी तलाश रहती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay