एडवांस्ड सर्च

38 वर्षीय पत्नी ने 63 के पति को 8 टुकड़ों में काटा, ऐसे खुला कत्ल का राज

वैलेंटाइन डे के दिन सुनीता ने अपने पति के ड्र‍िंक में भारी मात्रा में दर्दनाशक गोलियां मिला दी, जिससे राजेश की मौत हो गई. इसके बाद उसने राजेश की लाश को टुकड़ों में काटना शुरू किया. दो घंटे में उसने लाश को 8 टुकड़ों में काट डाला. फिर उसने अपने घर के बाहर खाली जगह में एक गड्ढा खोदा और उसमें लाश के टुकड़े दफना दिए और उसका सिर को एक प्लास्ट‍िक बैग में भरकर भलस्वा डेरी के पास नाले में फेंक आई.

Advertisement
aajtak.in [Edited by: परवेज़ सागर]नई दिल्ली, 27 March 2019
38 वर्षीय पत्नी ने 63 के पति को 8 टुकड़ों में काटा, ऐसे खुला कत्ल का राज पुलिस ने आरोपी पत्नी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है (सांकेतिक चित्र)

दिल्ली में एक 38 साल की महिला ने अपने 63 साल के पति को इस तरह से कत्ल किया कि मामले का खुलासा होने पर पुलिसवालों के भी होश उड़ गए. उस महिला ने पहले ड्र‍िंक में नशीली गोलियां देकर पति को मौत की नींद सुला दिया और फिर उसकी लाश के 8 टुकड़े कर दिए. महिला यहीं नहीं रुकी, उसने पति के कटे हुए सिर को घर के पास ही एक नाले में फेंक दिया. जबकि लाश के बाकी टुकड़े अपने घर में गड्ढा खोदकर दफना दिए.

कत्ल की ये खौफनाक कहानी वैलेंटाइन डे के दिन लिखी गई थी. दरअसल, साल 2006 में उत्तर पश्च‍िमी दिल्ली में रहने वाले 50 साल के राजेश ने अपनी उम्र से आधी यानी 25 साल की सुनीता के साथ शादी की थी. शादी के एक साल बाद ही उनके घर में एक बेटे का जन्म हुआ. यहां तक तो सब ठीक था. लेकिन असली परेशानी तब शुरू हुई, जब उनका परिवार पिछले साल एक नए घर में शिफ्ट हुआ.

वहां सुनीता की दोस्ती पड़ोस में रहने वाले एक लड़के के साथ हो गई. राजेश ने एक बार अपनी पत्नी को लड़के के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया था. इसके अलावा एक और घटना ऐसी घटी जिससे हालात और खराब हुए. सुनीता की मां कुछ समय पहले ही उनके घर आई थी, जिन्हें राजेश पसंद नहीं करता था. वह सुनीता की मां को स्टेशन छोड़ने गए लेकिन वह घर नहीं पहुंची. सुनीता को लगा कि राजेश ने उसकी मां की हत्या कर दी है.

जब इस रिश्ते को बचाने के सारे रास्ते बंद हो गए तो उसने रात-दिन क्राइम सीरियल्स देखने शुरू कर दिए. वो अपने पति से छुटकारा पाने के उपाय खोजने लगी. और इसके बाद सुनीता ने एक खौफनाक साजिश रची. जिसे उसने वैलेंटाइन डे के दिन सुनीता ने अपने खतरनाक मंसूबों को अंजाम दिया. सुनीता ने अपने पति के ड्र‍िंक में भारी मात्रा में दर्दनाशक गोलियां मिला दी, जिससे राजेश की मौत हो गई.

इसके बाद उसने राजेश की लाश को टुकड़ों में काटना शुरू किया. दो घंटे में उसने लाश को 8 टुकड़ों में काट डाला. फिर उसने अपने घर के बाहर खाली जगह में एक गड्ढा खोदा और उसमें लाश के बाकी बचे टुकड़े दफना दिए और उसका सिर को एक प्लास्ट‍िक बैग में भरकर भलस्वा डेरी के पास नाले में फेंक आई. जबकि लाश के पैरों को एक अन्य जगह पर गड्ढा खोदकर दफना दिया. फिर घर वापस आकर उसने खून साफ किया और कत्ल के सबूत मिटाए.

योजना के मुताबिक दो दिन बाद सुनीता पुलिस स्टेशन पहुंची और अपने पति के गुमशुदा होने की रिपोर्ट दर्ज कराई. कुछ समय तक पड़ोसियों ने भी राजेश के बारे में पूछा, फिर वे भी शांत हो गए. इस घटना के कुछ समय बाद पुलिस को एक सड़ा-गला सिर बरामद हुआ. जिससे पुलिस अलर्ट हो गई.

कहानी में ट्व‍िस्ट पिछले हफ्ते आया. जब उनका मकान मालिक सुनीता के घर आया और वहां मरम्मत के काम को देखकर पूछताछ की. लेकिन सुनीता इसका संतोषजनक जवाब नहीं दे पाई. कुछ देर बाद मकान मालिक लौटकर वापस आया और जहां रेत और मसाला लगा था. उसे हटाकर देखा. उसमें से निकली अंगुलियां देखकर वह हक्का-बक्का रह गया गया. इसके बाद उसने रेत को और हटाया तो पूरा हाथ नजर आने लगा.

मकान मालिक ने तत्काल पुलिस को सूचना दी. पुलिस फॉरेंसिक टीम लेकर मौके पर जा पहुंची. पुलिस को राजेश की पत्नी सुनीता पर शक हुआ. लिहाजा उससे सख्ती से पूछताछ की गई. इसी दौरान सुनीता टूट गई. उसने पुलिस के समक्ष अपना गुनाह कुबूल कर लिया. सुनीता ने पुलिस को बताया कि एक साल से उनके बीच कोई रिलेशन नहीं था. बात तलाक तक पहुंच गई थी. पति का गुस्से और मारपीट से तंग आकर उसने हत्या की वारदात को अंजाम दिया. फिलहाल पुलिस ने सुनीता को जेल भेज दिया है. जबकि उनके बेटे को बाल गृह में रखा गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay