एडवांस्ड सर्च

बोगस कॉल सेंटर के जरिए अमेरिकियों से करोड़ों ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश

ठाणे पुलिस ने बुधवार रात एक कॉल सेंटर में छापा मारकर 70 कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस को खबर मिली थी कि मीरा रोड पर हरिओम आईटी पार्क में चल रहे तीन कॉल सेंटर बोगस हैं.

Advertisement
aajtak.in
मुकेश कुमार ठाणे, 06 October 2016
बोगस कॉल सेंटर के जरिए अमेरिकियों से करोड़ों ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश ठाणे पुलिस ने किया खुलासा

ठाणे पुलिस ने बुधवार रात एक कॉल सेंटर में छापा मारकर 70 कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस को खबर मिली थी कि मीरा रोड पर हरिओम आईटी पार्क में चल रहे तीन कॉल सेंटर बोगस हैं. यहां काम करने वाले कर्मचारी विदेशी नागरिकों को करोड़ों का चूना लगा रहे हैं.

आरोपी वीओआईपी के जरिए फोन करते थे. उन्होंने ऐसी तकनीक बना रखी थी कि जिस शख्स को फोन किया जाता था उसे अमेरिकन इंटरनल रेवेन्यू सर्विसेस (आईआरएस) का नंबर दिखाई देता था.

ठगों ने अमेरिकी अधिकारियों के नाम और बैच नंबर भी हासिल कर रखे थे. वे खुद को अधिकारी बताकर अमेरिकी नागरिकों को फोन करते थे. आरोपियों ने ठगी के लिए बड़ी शातिर तकनीक अपनाई थी. अमेरिकी नागरिकों को बताया जाता था कि उन्होंने सही टैक्स नहीं अदा किया है.

आईआरएस कुछ ही देर में उनके खिलाफ छापेमारी की कार्रवाई शुरू करेगी. कार्रवाई के बाद उन्हें तीन महीने जेल में रहना होगा. सिक्योरिटी नंबर ब्लॉक कर दिया जाएगा. गाड़ी का लाइसेंस रद्द हो जाएगा. नौकरी चली जाएगी.

इसलिए यदि बचना चाहते हैं तो 10 हजार डॉलर तुरंत बताए गए खाते में जमा करा दें. कॉल करने वाले युवाओं की 10 से 60 हजार रुपये तक तनख्वाह थी. उन्हें बाकायदा इसके लिए ट्रेनिंग दी जाती थी. सवाल बताए जाते थे. बोगस कॉल सेंटर के कर्मचारियों को पता था कि वो गैरकानूनी काम कर रहे हैं.

इस बाबत अमेरिका से कोई शिकायत नहीं मिली हैं, लेकिन इस रेड के बारे में जानकारी अमेरिकन पुलिस से साझा की जाएगी. शक है अब तक 500 करोड़ से ज्यादा का चूना अमेरिकी नागरिकों को लगा हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay