एडवांस्ड सर्च

दिल्ली: पीड़ित लड़की की आपबीती- उसके सिर पर खून सवार था, लग रहा था कि मार ही डालेगा

"उसके सिर पर खून सवार था. उसको देखकर ऐसा लग रहा था कि वो आज मेरा खून ही कर देगा. जिस तरह से उसने मुझे मारा पीटा, वो दिन मैं कभी नहीं भूल सकती. मुझे बहुत चोट लगी है. गर्दन में दर्द है. ठीक से खाना नहीं खा पा रही हूं."

Advertisement
पुनीत शर्मा/अनिल कुमार [Edited by: परवेज़ सागर]नई दिल्ली, 19 September 2018
दिल्ली: पीड़ित लड़की की आपबीती- उसके सिर पर खून सवार था, लग रहा था कि मार ही डालेगा पुलिस ने वीडियो वायरल होने के बाद आरोपी रोहित को गिरफ्तार कर लिया था

दिल्ली में एक लड़की की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ. वायरल वीडियो में साफ देखा जा सकता था कि किस तरह से रोहित नाम का एक लड़का एक लड़की की बुरी तरह से पिटाई कर रहा था. इस घटना के बाद पीड़िता ने उत्तम नगर थाने में आरोपी रोहित के खिलाफ रेप और मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया.

इसके बाद दौरान आजतक/इंडिया टुडे की टीम ने पीड़िता से एक्सक्लूसिव बातचीत की. पिटाई और रेप का शिकार हुई पीड़िता ने खुलासा करते हुए बताया "रोहित ने मुझे मिलने के लिये उत्तम नगर में उस बीपीओ में बुलाया था. मैंने उसको बहुत मना किया कि मैं नही आऊंगी. उसने रिक्वेस्ट की तो मैं मिलने चली गई. नार्मल बातचीत हुई. तो बातचीत में कई ऐसी बातें पता चली जो मुझे पहले नहीं पता थी. अगर ये बाते मुझे देर से पता चलती तो मैं और भी ज़्यादा कमज़ोर हो जाती. मैंने उन बातों का विरोध किया तो उसने वो सारी हरकत मेरे साथ की. मुझे एक दूसरी लड़की के बारे में पता चला जिसके साथ वो रिलेशन में था. मैंने जब पूछा कि मेरे साथ हो तो उसके साथ रिलेशन में क्यों हो?"

पीड़िता ने बताया "रोहित और मैं गर्लफ्रेंड और बॉयफ्रेंड थे, 3 साल से रिलेशन में थे. कॉमन फ्रेंड के जरिये मिले थे और उसने शादी करने का वादा किया था. 2 सितंबर को हम बात कर रहे थे, तब अली हसन से दूसरी लड़की के बारे में पता चला. मैंने रोहित से कहा कि हम दोनों में से एक के साथ रहो, दोनों लड़कियों की ज़िंदगी बर्बाद करने का फायदा नहीं है. उसने पहले इन बातों को मानने से मना किया और जब मैं गुस्से में घर जाने के लिए उठी तो वो अचानक मुझे मारने लगा. उसने अचानक मारना शुरू किया. मेरे में हिम्मत नहीं बची कि भाग पाऊं. उसने जो पेट मे लात मारी उसकी वजह से अभी तक खा भी नहीं पा रही हूं."

पीड़िता ने आगे आजतक/इंडिया टुडे को बताया "इस दौरान अली हसन रोहित को ये सब करने से मना कर रहा था लेकिन वो मुझे बचाने आगे नहीं आया. जहां वारदात हुई उसके पास से ही अली हसन वीडियो बना रहा था. मारपीट से पहले मेरे साथ जबरदस्ती रेप भी किया. उसने बहुत मारा और कहा कि तू उस लड़की का नाम नहीं लेगी. मैंने कहा कि मैं नाम नहीं लूंगी. मुझे जाने तो दो. क्योंकि मुझे अपनी जान बचानी थी. उसके सिर पर खून सवार था. उसको देखकर ऐसा लग रहा था कि वो आज मेरा खून ही कर देगा. जिस तरह से उसने मुझे मारा पीटा, वो दिन मैं कभी नहीं भूल सकती. मुझे बहुत चोट लगी है. गर्दन में दर्द है. ठीक से खाना नहीं खा पा रही हूं."

आगे पीड़ित लड़की ने बताया "पुलिस के पास इसलिए देर से गई क्योंकि बहुत डरी और सहमी थी. ढंग से उठा भी नहीं जा रहा था. मैंने ये सब न्यूज़ में देखा. राजनाथ सिंह ने मेरे लिए ट्वीट किया तो मुझे हिम्मत आई कि सब मेरे लिए इतना कर रहे हैं. मुझे हिम्मत आई कि अगर अब डर के बैठी तो शायद पूरी ज़िंदगी डर के बैठी रहूंगी. पुलिस के पास गई. पुलिस बहुत सपोर्ट कर रही है. पुलिस बहुत अच्छा व्यवहार कर रही है. उन्होंने ये नहीं सोचा कि आरोपी उन्हीं के महकमे वाले का बेटा है. पुलिस ने कहा कि हम आरोपी को सजा दिलाएंगे. आरोपी (रोहित) पुलिसवाले का बेटा होने का रौब दिखाता था. बंदूकें मैं आराम से लेकर घूम सकता हूं. उसे हथियारों का बहुत शौक था. बहुत गुस्से वाला था. उसे पीने की आदत थी."

लड़की ने कहा "रोहित को कड़ी से कड़ी सजा मिले. फांसी की सज़ा भी छोटी है उसके लिए. क्योकि जिस तरह उसने मेरे साथ किया, कोई और लड़का किसी और लड़की के साथ कभी ऐसा ना करे. रोहित का ऐसा हाल हो कि ऐसे लड़को के लिए उसकी सजा एक सबक हो. फांसी भी छोटी सज़ा है उसके लिए."

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay