एडवांस्ड सर्च

दाऊद पर आजतक का खुलासा: जानिए, कौन है डॉन का 'लंदन वाला दोस्त'

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहीम पर आजतक के खुलासे के बाद चारों तरफ हड़कंप मचा है. दाऊद की आवाज़ आजतक पर सुने जाने के बाद ठाणे पुलिस भी जागी है. पुलिस ने आजतक से ऑडियो की मांग की है.

Advertisement
aajtak.in
मुकेश कुमार/ अरविंद ओझा नई दिल्ली, 14 November 2017
दाऊद पर आजतक का खुलासा: जानिए, कौन है डॉन का 'लंदन वाला दोस्त' अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहीम पर आजतक के खुलासे के बाद चारों तरफ हड़कंप मचा है. दाऊद की आवाज़ आजतक पर सुने जाने के बाद ठाणे पुलिस भी जागी है. पुलिस ने आजतक से ऑडियो की मांग की है. आजतक ने गुलशन कुमार हत्याकांड के मोस्ट वांटेड नदीम को लेकर डॉन का ऑडियो डीकोड किया था. दाऊद अपने गुर्गे से संगीतकार नदीम सैफी के बारे में बात कर रहा है, और कोड वर्ड में उसे ही लंदन वाला दोस्त कह रहा है.

90 के दशक में संगीतकार नदीम सैफी और श्रवण राठौड़ की जोड़ी पूरे देश में चर्चित थी. दोनों ने कई फिल्मों में बेहतरीन संगीत दिया था, लेकिन साल 2005 में दोस्ती फिल्म के संगीत के बाद यह जोड़ी टूट गई. नदीम-श्रवण की जोड़ी 1979 में भोजपुरी फिल्म दंगल के संगीत के रिलीज के साथ सामने आई. इनकी पहली हिंदी फिल्म मैंने जीना सीख लिया थी. इस जोड़ी को शोहरत मिली टी सीरीज की महेश भट्ट निर्देशित फिल्म आशिकी के संगीत से.

फिल्म आशिकी का संगीत इतना हिट हुआ कि इसके बल पर फिल्म भी सुपर हिट हो गई. नदीम-श्रवण की जोड़ी टी सीरीज के गुलशन कुमार की पसंदीदा थी. गुलशन कुमार ने नदीम-श्रवण को आकाश पर पहुंचा दिया. साल 1997 गुलशन कुमार की हत्या हो गई. इस हत्याकांड में नदीम सैफी को भी आरोपी बनाया गया था. इसके बाद भारत छोड़कर नदीम लंदन में बस गए हैं. वहां स्वनिर्वासन जीवन बिता रहे हैं. दाऊद का गुर्गा इसी नदीम की बात करता है.

दाऊद और उसके गुर्गे की बातचीत में नदीम की फिक्र

दाउद की कॉलर ट्यून बजती है....मैं जो बोलूं हां तो हां...मैं जो बोलूं ना तो ना....फिल्म का नाम प्रियतमा हैं...गाना किशोर कुमार ने गाया है.

दाऊद- हैलो (लोकेशन कराची)

गुर्गा- सर, असलाम वालेकुम....(लोकेशन दुबई).....सर, वो 'लंदन वाला दोस्त' खतरे में आ गया है....इधर प्रीपरेशन दे दी है....2 दिन में उठाएंगे उसको.

दाऊद- हम्म्म किसको

गुर्गा- लंदन वाला दोस्त सर

दाऊद- कौन सा वाला

गुर्गा- बड़ा उस्ताद सर

दाऊद- अच्छा

गुर्गा- हां.....मैंने कहा अपने सुनने की खबर थी....क्योंकि इधर हालात खराब होंगे इसलिए प्रीपरेशन दे दी है...2-3 दिन पहले की. भाई अपनी सिक्योरिटी वगैरह सारी टाइट कर लो, ये काम उठाने का हो रहा है.

दाऊद- अच्छा

गुर्गा- जी भाई

दाऊद- अच्छा...अच्छा.....वो अपना चश्मा वाला की बात कर रही है ना

गुर्गा- सर......आं.....कराची वाला जो चना मुर्श है

दाऊद- हां....हां....वो सिंगर है अपना

गुर्गा- हां जी....जी जी सर बिल्कुल

दाऊद- हां....हां...हां

गुर्गा- तो ये काम हो रहा है 2 दिन बाद

दाऊद- किधर, इधर भेजेंगे या उधर ही रखेंगे

गुर्गा- उधर ही रखेंगे, उधर ही केस है ना सर जी मर्डर तो उधर ही हुआ है ना

दाऊद- हां...हां

गुर्गा- लेकिन पकड़ने से ही हालात खराब हो जाते हैं ना सर, तो इसलिए वो कह रहे हैं की इधर रुको और अपना बंदोबस्त करो सबकुछ टाइट करो.....हम उठाएंगे उसको 2 दिन में जी भाई

दाऊद- ठीक है...ठीक है...मैं बोलता हूं

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay