एडवांस्ड सर्च

UP के अपराधियों में पुलिस का खौफ, संभल-सोनभद्र की घटनाएं अपवादः डीजीपी

कैदियों को छुड़ाने के लिए संभल में दो पुलिसकर्मियों की हत्या और सोनभद्र में भूमि विवाद में 10 लोगों के मारे जाने के बाद कानून-व्यवस्था को लेकर सवाल उठ रहे हैं. समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस इस मसले पर योगी सरकार पर हमलावर हैं. इन सबके बीच आज तक से बात करते हुए प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओपी सिंह ने खराब कानून-व्यवस्था के आरोप को खारिज कर दिया.

Advertisement
aajtak.in
कुमार अभिषेक लखनऊ, 19 July 2019
UP के अपराधियों में पुलिस का खौफ, संभल-सोनभद्र की घटनाएं अपवादः डीजीपी उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह (फाइल फोटो Aajtak.in)

  • डीजीपी ने खराब कानून-व्यवस्था के आरोप खारिज किए
  • 12000 से ज्यादा अपराधियों की गिरफ्तारी का दावा किया
  • बोले- अपराधी खुद ही चाहते हैं कि वह जेल के अंदर रहें

उत्तर प्रदेश में एक ही दिन, संभल में दो पुलिसकर्मियों और सोनभद्र में भूमि विवाद में 10 लोगों की हत्या के बाद कानून-व्यवस्था को लेकर सवाल उठ रहे हैं. समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस इस मसले पर योगी सरकार पर हमलावर हैं. इन सबके बीच आज तक से बात करते हुए प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओपी सिंह ने खराब कानून-व्यवस्था के आरोप को खारिज कर दिया.

उन्होंने कहा कि मैं नहीं मानता कि कानून व्यवस्था खराब है. मेरा मानना है कि हमने कानून का राज स्थापित किया है. हमने अपराधियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की है. अपराधियों पर गैंगस्टर एक्ट लगाया है. डीजीपी ने कहा कि आंकड़े देखें तो लोगों में सुरक्षा की भावना आई है और अपराधियों के मन में खौफ है. 12 हजार से ज्यादा अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है. अपराधी खुद ही चाहते हैं कि वह जेल के अंदर रहें. डीजीपी ने लॉ एंड ऑर्डर पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि लोग भी महसूस कर रहे हैं कि यह पिछले कई सालों से बेहतर है. इस समय यह जो घटनाएं हुई हैं, वह अपवाद हैं.

पुलिस-प्रशासन शहीद पुलिसकर्मियों के साथ

डीजीपी ने संभल में मारे गए पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. पुलिसकर्मियों पर बाहर से हमला नहीं हुआ. कैदियों ने सिपाहियों की आंख में मिर्च पाउडर डाला और सिपाहियों की हत्या कर उनकी राइफल लेकर 3 कैदी फरार हो गए. पुलिस-प्रशासन शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार के साथ है. हम घटना की जांच कर रहे हैं कि कहां-कहां कमी आ रही, कहां-कहां लापरवाही हुई.

उन्होंने दावा किया कि जल्द ही फरार कैदियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. अब तक जो भी ऐसी घटनाएं हुई हैं, उसमें भागे हुए कैदी या तो गिरफ्तार हुए हैं या मारे गए हैं. मुजफ्फरनगर से भागा हुआ कैदी अभी हाल में मारा गया है. हम इस मामले में जल्द कार्रवाई करेंगे.

सोनभद्र में पुलिस की भूमिका अच्छी

डीजीपी ने सोनभद्र में जमीन विवाद में हुई हत्याओं पर कहा कि इसमें निरोधात्मक कार्रवाई की गई है. इस मामले में पुलिस की भूमिका अच्छी रही है. पूरे मामले में ग्राम प्रधान संलिप्त है. उन्होंने कहा कि हमारे पास जो शक्तियां हैं,  हमने वह किया था. फिलहाल कांबिंग कर 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जिसमें ग्राम प्रधान का भतीजा शामिल है. डीजीपी ने कहा कि सीनियर अधिकारी कैंप कर रहे हैं जो भी दोषी होगा, जिसकी भी लापरवाही होगी, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay