एडवांस्ड सर्च

यूपीः MLA मुख्तार अंसारी पर सरकार सख्त, 4 करीबियों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित

गाजीपुर में मुख्तार अंसारी के 4 करीबियों के शस्त्र लाइसेंस हाल ही में निलंबित कर दिए गए हैं. जिन लोगों के लाइसेंस निलंबित किए गए हैं, उनमें दुर्गेश कुमार राय, लाजपत राय, सोहराब शाह और कयामुद्दीन खां के नाम शामिल हैं.

Advertisement
aajtak.in
कुमार अभिषेक / परवेज़ सागर लखनऊ, 16 July 2020
यूपीः MLA मुख्तार अंसारी पर सरकार सख्त, 4 करीबियों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित पहले भी मुख्तार अंसारी के करीबियों पर पुलिस ने ऐसी ही कार्रवाई की है (फाइल फोटो)

  • मुख्तार के करीबियों और रिश्तेदारों पर एक्शन
  • सौ ज्यादा लोगों पर गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई
  • कइयों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित किए गए

कानपुर शूटआउट और विकास दुबे एनकाउंटर मामले में किरकिरी होने के बाद अब यूपी सरकार सूबे के नामचीन माफिया-बदमाशों पर शिकंजा कसने की तैयारी में है. योगी सरकार अपने ऑपरेशन क्लीन को अंजाम तक पहुंचाने के लिए सफेदपोश अपराधियों पर भी सख्त नजर आ रही है. इसी के चलते पूर्वांचल के बाहुबली नेता और विधायक मुख्तार अंसारी के लोगों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई की जा रही है.

इसी कड़ी में गाजीपुर में मुख्तार अंसारी के 4 करीबियों के शस्त्र लाइसेंस हाल ही में निलंबित कर दिए गए हैं. जिला प्रशासन ने निलंबन की कार्रवाई की है. जिन लोगों के लाइसेंस निलंबित किए गए हैं, उनमें दुर्गेश कुमार राय, लाजपत राय, सोहराब शाह और कयामुद्दीन खां के नाम शामिल हैं. ये सभी मुख्तार अंसारी के करीबी बताए जाते हैं.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्लिक करें

शस्त्र लाइसेंस निलंबित होने के बाद असलहे थाना मुहम्मदाबाद के मालखाने में जमा कराए गए हैं. अभी तक मुख्तार अंसारी गैंग के 47 शस्त्र लाइसेंस निलंबित किए जा चुके हैं. और संबंधित हथियार थानों के मालखानों में जमा करा लिए गए हैं.

दरअसल, कानपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिसवालों की शहादत के बाद योगी सरकार की नींद खुली. कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे ने जो तांडव मचाया वो यूपी पुलिस के इतिहास का काला अध्याय बन गया है. यही वजह है कि अब यूपी की सरकार कोई रिस्क नहीं लेना चाहती. नामी बदमाशों को दबोचने के लिए पुलिस प्रशासन फुल एक्शन में नजर आ रहे हैं. कानून व्यवस्था को धता बताने वाले बदमाशों की अब खैर नहीं है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

यूपी पुलिस ने राज्य के टॉप अपराधियों की जो लिस्ट तैयार की है, उसमें सबसे ऊपर मुख्तार अंसारी का नाम है. यही वजह है कि अब तक मुख्तार अंसारी की 50 अवैध संपत्तियां जब्त की जा चुकी हैं. मुख्तार के अवैध कारोबार को खत्म किया जा रहा है. यही नहीं, मुख्तार अंसारी के सौ से ज्यादा लोगों पर गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई भी की गई है.

आपको बता दें कि यूपी के नोएडा, ग्रेटर नोएडा में भी कुख्यात बदमाश सुंदर भाटी के दो खेत कुर्क किए गए हैं. यह कार्रवाई ग्रेटर नोएडा के रामपुर गांव में की गई. सुंदर भाटी गिरोह के बदमाश सत्यवीर बैंसला के 3 प्लॉट भी कुर्क किए गए हैं. जिनकी कीमत ढाई करोड़ से ऊपर है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay