एडवांस्ड सर्च

कितना बाकी है देश में अभी मलेरिया का कहर...

25 अप्रैल को विश्व मलेरिया दिवस मनाया जाता है, ताकि इस घातक बीमारी पर पर काबू पाया जा सके.

Advertisement
aajtak.in
विष्णु नारायण नई दिल्ली, 25 April 2016
कितना बाकी है देश में अभी मलेरिया का कहर... Malaria

हमारी दुनिया में हर 25 अप्रैल को विश्व मलेरिया दिवस मनाया जाता है, ताकि इस घातक बीमारी पर पर काबू पाया जा सके.

बता दें कि यह बीमारी मादा एनोफिलीज मच्छर के काटने से होती है. इस मच्छर के काटने से प्लाजमोडियम पैरासाइट मनुष्य के भीतर पहुंचता है और यह बीमारी लगती है.

मलेरिया के परजीवी का पता सबसे पहले फ्रांसीसी सर्जन चार्ल्स लुइस अल्फोंसे लैवरेन ने साल 1980 में लगाया था.

दुनिया भर में मलेरिया के आंकड़े :  
दुनिया भर में ऐेसे 21.4 करोड़ मामलों का पता चला.
4.38 लोगों की मौत हो गई और उनमें से 90 फीसदी मौतें अकेले अफ्रीका में हुईं.

हमारे देश में मलेरिया के आंकड़े : 
साल 2001 में 20.9 लाख मामले दर्ज किए गए और 1,005 लोग मौत के शिकार हुए.
साल 2014 में 11 लाख मामले दर्ज किए गए और 561 लोग मौत की चपेट में आ गए.

सौजन्य: NEWSFLICKS

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay