एडवांस्ड सर्च

उन्नाव रेप केस: पीड़िता के पिता की पिटाई का अहम सबूत आया सामने

पीड़िता के चाचा का दावा है कि इन्हीं हथियारों से आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सिंह सेंगर ने पीड़िता के पिता की पिटाई की थी. गौरतलब है कि पिटाई के चलते आए गंभीर चोटों की वजह से पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई.

Advertisement
aajtak.in
आशुतोष कुमार मौर्य/ कुमार अभिषेक / शिवेंद्र श्रीवास्तव उन्नाव, 23 April 2018
उन्नाव रेप केस: पीड़िता के पिता की पिटाई का अहम सबूत आया सामने आरोपी विधायक के भाई अतुल सिंह सेंगर

उन्नाव गैंगरेप मामले में पीड़िता के पिता की पिटाई से जुड़े अहम सुबूत सामने आए हैं. पीड़िता के चाचा ने पुलिस को पीड़िता के पिता की पिटाई में इस्तेमाल हथियारों की तस्वीरें और पूरी डिटेल भेजी है. सूत्रों के मुताबिक, मामले की जांच कर रही CBI की एक टीम आज इन हथियारों की बरामदगी के लिए उन्नाव जा सकती है.

पीड़िता के चाचा का दावा है कि इन्हीं हथियारों से आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सिंह सेंगर ने पीड़िता के पिता की पिटाई की थी. गौरतलब है कि पिटाई के चलते आए गंभीर चोटों की वजह से पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई.

इस मामले में अतुल सेंगर को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. अतुल सेंगर और उसके साथ गिरफ्तार चार अन्य आरोपियों की रिमांड अवधि पूरी होने के चलते सीबीआई ने उन्हें न्यायिक हिरासत में उन्नाव जेल भेज दिया है. CBI ने कोर्ट से अतुल सेंगर की रिमांड दोबारा नहीं मांगी. अतुल की गाड़ी और राइफल हालांकि CBI के कब्जे में ही है.

पुलिस ने बताया कि सभी आरोपियों को उन्नाव जेल में अलग-अलग बैरक में रखा गया है. जेल प्रशासन ने इन आरोपियों की सुरक्षा के लिए अलग से इंतजाम किए हैं. साथ ही उनसे मिलने वालों को आईडी देखकर ही एंट्री दी जाएगी. पूरी बैरक और आस-पास के इलाके को सीसीटीवी की निगरानी में रखा गया है.

इस बीच आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर 27 अप्रैल तक के लिए CBI की रिमांड में हैं और उनसे लगातार पूछताछ जारी है. कुलदीप सेंगर को इससे पहले एक और बड़ा झटका तब लगा, जब सरकार ने उनकी वाई श्रेणी की सुरक्षा हटा ली.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay