एडवांस्ड सर्च

Advertisement

गुप्तधन पाने की लालच में दो साल के बच्चे की चढ़ाई बलि

आज के आधुनिक युग में लालच और अंधविश्वास का मिश्रण किस  कदर किसी व्यक्ति को हैवान बना सकती है, इसकी एक बानगी देखने को मिली महाराष्ट्र के चंद्रपुर में जहां गुप्तधन की खातिर काला जादू करने वालों ने दो वर्षीय बच्चे की बलि दे दी.
गुप्तधन पाने की लालच में दो साल के बच्चे की चढ़ाई बलि प्रतीकात्मक फोटो
aajtak.in [Edited By: विवेक पाठक]चंद्रपुर, 31 August 2018

महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले के ब्रह्मपुरी तहसील के खंड़ाला इलाके में दो साल के बच्चे की छिपे खजाने के लिए बलि देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पुलिस ने मामले में  दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

दरअलस चंद्रपुर के खंड़ाला इलाके में 2 वर्षीय युग मेश्राम पुत्र अशोक मेश्राम, 22 अगस्त को अपने घर के पास खेलते समय गायब हो गया. जबकि उसका बड़ा भाई हर्षल (4) घर वापस आगया लेकिन युग वापस नहीं लौटा. युग के वापस नहीं लौटने पर पिता ने पुलिस ब्रह्मपुरी पुलिस थाने में शिकायक दर्ज कराई.  

पुलिस ने इस मामले में 3 टीम बनाकर जांच शुरू की. जांच के दौरान पुलिस ने पाया कि मेश्राम के सुनील और प्रमोद बनकर नाम के दो पड़ोसी काला जादू करते हैं. लिहाजा पुलिस ने इन दोनों पर निगरानी रखनी शुरू कर दी.

सघन जांच के बाद पुलिस ने बुधवार की शाम को बच्चे युग का शव बनकर के घर के पीछे कचरे के ढेर में पाया गया. बच्चे के सिर पर पूजा कर टीका लगाया गया था और उसकी हत्या की गई थी. शव बरामद होने के बाद पुलिस की जांच में तेजी आई. पुलिस की पूछताछ के बाद राज से परदा उठा. पुलिस ने इस मामले में आज सुबह सुनील व तथाकथित बाबा प्रमोद बनकर को गिरफ्तार कर लिया.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक इन लोगों ने गुप्तधन के लिए बच्चे की बलि देने की बात स्वीकार की है. इस घटना में शामिल 2 लोग अभी भी फरार हैं जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयास कर रही है. वहीं पुलिस आरोपियों के खिलाफ अंधविश्वास विरोधी कानून, हत्या समेत विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay