एडवांस्ड सर्च

Advertisement
भारत-इंग्लैंड क्रिकेट 2018

CRIME NEWS Wrap@07PM: अपराध जगत की पांच बड़ी खबरें

CRIME NEWS Wrap@07PM: अपराध जगत की पांच बड़ी खबरें अपराध जगत की टॉप 5 खबरें
aajtak.in [Edited by: परवेज़ सागर]नई दिल्ली, 12 August 2017

इंडिया@70: क्रांतिकारियों ने आजादी के लिए ऐसे लूटा था सरकारी खजाना

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास में काकोरी कांड हमेशा याद रखा जाएगा. ब्रिटिश राज के खिलाफ जंग छेड़ने की खतरनाक मंशा को पूरा करने के लिए क्रांतिकारियों को हथियार खरीदने थे. जिसके लिये ब्रिटिश सरकार का खजाना लूटने की योजना बनाई गई और इस ऐतिहासिक घटना को 9 अगस्त 1925 के दिन अंजाम दिया गया. इस ट्रेन डकैती में जर्मनी के बने चार माउज़र पिस्टल भी इस्तेमाल किए गए थे. हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन के केवल दस सदस्यों ने इस पूरी घटना को अंजाम दिया था.

इंडिया@70: यह प्लान होता कामयाब, तो 1915 में मिल जाती आजादी

स्वतंत्रता संग्राम में कई क्रांतिकारी ऐसे थे, जिनका नाम इतिहास के पन्नों में कहीं गुम हो गया. ऐसा ही एक नाम था यतीन्द्रनाथ मुखर्जी. जो बाघा जतिन के नाम से जाने जाते थे. कहते हैं कि देश को अंग्रेजों से आजाद कराने के लिए बाघा जतिन ने एक ऐसी योजना बनाई थी कि देश 1915 में ही आजाद हो गया होता. अगर ऐसा होता हो तो शायद देश की आजादी का इतिहास भी बिल्कुल अलग होता.

छत्तीसगढ़ः छात्राओं से छेड़छाड़ मामले में दो CRPF जवान अरेस्ट

छत्तीसगढ़ में छात्राओं के साथ हुई छेड़छाड़ के मामले दो सीआरपीएफ जवानों की पहचान करने के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. दूसरा जवान छुट्टी पर घर गया हुआ था, जिसके घर पर दबिश देकर उसे गिरफ्तार कर लिया गया. इस घटना में लगभग आधा दर्जन से ज्यादा जवान शामिल बताए जा रहे हैं. फिलहाल केस की तफ्तीश जारी है.

NIA ने दाखिल की चार्जशीट, कहा- कराची से चल रहा था आतंकी मॉड्यूल

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने पटना कोर्ट में बड़ा खुलासा किया है. एनआईए ने चार्जशीट में बताया कि बीते महीनों भारत में आतंकवाद से जुड़े जो रेल हादसे हुए हैं, उनकी साजिश कराची में ही रची गई थी. कराची मॉड्यूल के निशाने पर भारत के सरकारी दफ्तर थे. इस प्लानिंग का मास्टरमाइंड आतंकी शेख सफी को बताया गया है.

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केसः विकास और आशीष को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत

वर्णिका कुंडू छेड़छाड़ केस में आरोपी विकास बराला और आशीष को शनिवार को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. चंडीगढ़ के हाई-प्रोफाइल छेड़छाड़ केस में आरोपी विकास बराला और आशीष को इससे पहले दो दिनों की पुलिस रिमांड पर भेजा गया था. इस केस की अगली सुनवाई अब 25 अगस्त को होगी.

 

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay