एडवांस्ड सर्च

छात्र ने अपने ही अपहरण की रची साजिश, पिता से मांगे 50 लाख रुपये फिरौती

पुलिस ने जांच में पाया कि फिरौती के लिए किए गए फोन नंबरों के आधार पर उनकी लोकेशन फरीदाबाद की पाई गई. पुलिस की टीम ने 27 सिंतबर को छात्र व उसके तीन साथियों को फरीदाबाद स्थित मिलन होटल के समीप से गिरफ्तार किया.

Advertisement
aajtak.in
तनसीम हैदर फरीदाबाद, 29 September 2019
छात्र ने अपने ही अपहरण की रची साजिश, पिता से मांगे 50 लाख रुपये फिरौती प्रतीकात्मक तस्वीर

  • साजिश रचने वाला 12वीं कक्षा का छात्र
  • फोन नंबर ट्रेस करने से मामले का खुलासा

हरियाणा से एक ऐसा मामला सामने आया है जहां एक छात्र ने अपने ही अपहरण की साजिश रचकर अपने पिता से 50 लाख रुपये की फिरौती की मांग की. पीड़ित पिता ने पुलिस को इस मामले की जानकारी दी. पुलिस ने छानबीन में आरोपी छात्र और उसके दोस्तों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है.

बताया जा रहा है कि आरोपी छात्र 12वीं कक्षा का छात्र है. छात्र के परिवार के मुताबिक 21 सिंतबर को वह बिना कुछ बताए घर से गायब हो गया था. उसके परिवार ने उसकी काफी तलाश की जिसके बाद भी कुछ पता नहीं चला. आरोपी छात्र के पिता ने इस मामले की जानकारी पुलिस में दी और मामला दर्ज करवाया. पीड़ित पिता ने बताया कि उनका बेटा आखिरी बार गांव के ही दी लड़कों के साथ देखा गया और वह दोनों भी उसी दिन से गायब थे.

अपहरण की रची थी साजिश

पीड़ित पिता के मुताबिक गायब छात्र और उसके साथियों ने 25 सिंतबर को पिता के पास फोन किया और कहा, 'अगर बेटे को सही सलामत वापस चाहते हो तो 50 लाख रुपये का इंतजाम कर लें. इसके बाद वो बार बार फोन कर फिरौती की रकम की मांग करते रहे. इसी बीच जब पीड़ित पिता ने फिरौती की जानकारी पुलिस को दी, तब इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच और साइबर सेल को सौंपी गई.

नंबरों को ट्रेस कर हुआ खुलासा

पुलिस ने जांच में पाया कि फिरौती के लिए किए गए फोन नंबरों के आधार पर उनकी लोकेशन फरीदाबाद की पाई गई. पुलिस की टीम ने 27 सिंतबर को छात्र व उसके तीन साथियों को फरीदाबाद स्थित मिलन होटल के समीप से गिरफ्तार किया. पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसके पिता उसे घर से बाहर नहीं जाने देते थे और न ही जेब खर्च के लिए रुपये देते थे इसलिए उसने और उसके साथियों ने यह साजिश रची.

साजिश रचने के पीछे ये बताई वजह?

पूछताछ में छात्र ने बताया कि सबसे पहले वे चारों साथी कोकिलावन धाम गए और उसके बाद अपने साथी ईशांत के घर पर रुके और उसकी कार में इधर-उधर पार्कों के समीप और सुनसान जगह जाकर समय बीताते रहे. पुलिस ने आरोपियों से मोबाइल फोन की बरामदगी व निशानदेही के लिए चारों आरोपी को अदालत में पेश कर दो दिन के लिए पुलिस रिमांड पर लिया हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay