एडवांस्ड सर्च

शीना मर्डर: इंद्राणी मुखर्जी ने कहा- जेल में मुझे जान से मारने की कोशिश

शीना बोरा मर्डर केस में सजा काट रही इंद्राणी मुखर्जी ने कहा कि जेल के अंदर उसे कोई जान से मारने की कोशिश कर रहा है. उसने ड्रग ओवरडोज के लिए जेल प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि दाल या उसे दी जाने वाली दवाओं के जरिए ड्रग ओवरडोज किया जा सकता है.

Advertisement
मुस्तफा शेख [Edited by: मुकेश कुमार गजेंद्र]मुंबई, 23 April 2018
शीना मर्डर: इंद्राणी मुखर्जी ने कहा- जेल में मुझे जान से मारने की कोशिश शीना बोरा और इंद्राणी मुखर्जी (दाएं)

शीना बोरा मर्डर केस में सजा काट रही इंद्राणी मुखर्जी ने कहा कि जेल के अंदर उसे कोई जान से मारने की कोशिश कर रहा है. उसने ड्रग ओवरडोज के लिए जेल प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि दाल या उसे दी जाने वाली दवाओं के जरिए ड्रग ओवरडोज किया जा सकता है. उसे अपनी जान को लेकर खतरा है.

सीबीआई कोर्ट में इंद्राणी ने कहा कि बीते 7 अप्रैल को उसने शुक्रवार का व्रत रखा हुआ था. उस दिन उसने जेल में दी जाने वाली दाल से अपना व्रत तोड़ा था. इसके अलावा उसने कोई भी चीज बाहर से नहीं खाई थी. दाल पीने के बाद उसकी हालत बिगड़ने लगी थी. इसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

बताते चलें कि इंद्राणी मुखर्जी 7 अप्रैल की रात दक्षिण मुंबई की भायखला जेल में बेहोशी की हालत में पाई गई थी. इसके बाद उसे जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अतिरिक्त महानिदेशक (जेल) भूषण कुमार उपाध्याय ने इस मामले में विस्तृत जांच के आदेश दिए थे. इसमें ड्रग ओवरडोज का खुलासा हुआ था.

जेजे अस्पताल के डीन सुधीर नंदनकर ने भी कहा था कि यह मामला ड्रग ओवरडोज का है. मेडिकल रिपोर्ट में सामने आया है कि इंद्राणी ने अम्लोडाइपिन, एस्पिरिन और अमित्रिप्टिलाइन ड्रग्स लिया था. इसके बाद उसकी हालत बिगड़ने लगी थी. उसे बेहोशी की हालत में अस्पताल ले जाया गया था, जहां से उसे छुट्टी दे दी गई थी.

शीना बोरा मर्डर केस की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी आईएनएक्स मीडिया केस के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में भी आरोपी हैं. वह 24 अप्रैल 2012 को अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या करने के आरोप में जेल में बंद हैं. उनके पति और मीडिया व्यापारी पीटर मुखर्जी भी इस केस में जेल में बंद हैं.

शीना बोरा की हत्या का मामला इंद्राणी के ड्राइवर श्यामवर राय की गिरफ्तारी के बाद सामने आया था. उसे पुलिस ने 21 अगस्त 2015 को गैरकानूनी ढंग से हथियार रखने के आरोप में गिरफ्तार किया था, लेकिन उससे पूछताछ के दौरान शीना बोरा मर्डर में नया खुलासा हुआ था.

श्यामवर राय की गिरफ्तारी के बाद मुंबई के तत्कालीन पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने शीना बोरा के केस को फिर से खोलने का आदेश दिया था. पूछताछ के दौरान ड्राइवर राय ने पुलिस को शीना की हत्या के बारे में बताया था. इसके बाद इस मामले में इंद्राणी, पीटर और खन्ना की गिरफ्तारी हुई थी.

यह केस सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया गया था. आईएनएक्स मीडिया केस की जांच के सिलसिले में कुछ दिनों पहले इंद्राणी और कार्ति चिदंबरम को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गई थी. पूर्व गृह मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति आईएनएक्स मीडिया केस में इस समय जमानत पर चल रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
पाएं आजतक की ताज़ा खबरें! news लिखकर 52424 पर SMS करें. एयरटेल, वोडाफ़ोन और आइडिया यूज़र्स. शर्तें लागू
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay