एडवांस्ड सर्च

यूपीः लेडी कांस्टेबल से प्रेम में युवक को जिंदा जलाया, ग्रामीणों ने पुलिस पर बोला हमला

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में दबंगों ने एक युवक को हाथ पैर बांधकर जिंदा जला दिया. इस घटना के गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस अधिकारियों के सामने घंटों तक उत्पात मचाया और आगजनी करते रहे.

Advertisement
aajtak.in
सुनील कुमार तिवारी प्रतापगढ़, 02 June 2020
यूपीः लेडी कांस्टेबल से प्रेम में युवक को जिंदा जलाया, ग्रामीणों ने पुलिस पर बोला हमला प्रतापगढ़ में युवक को जिंदा जलाया

  • छेड़खानी मामले में पैरोल पर छूटा था युवक
  • युवक का हाथ पैर बांधकर जिंदा जला दिया
  • मौके पर बड़े पैमाने पर पुलिस बल तैनात

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में सोमवार को दबंगों ने एक युवक को हाथ पैर बांधकर जिंदा जला दिया. साथ ही ग्रामीण पुलिस अधिकारियों के सामने घंटों तक उत्पात और आगजनी करते रहे.

बताया जा रहा है कि ग्रामीणों ने 2 पुलिस जीप समेत तीन वाहनों में आग लगा दी. इस घटना में 4 पुलिसकर्मी घायल हैं. यह पूरा तांडव 3 घंटे तक चलता रहा. इस दौरान पुलिस के अधिकारी गांव में जाने में असमर्थ नजर आए. बाद में मौके पर आईजी और एडीजी प्रयागराज पहुंचे.

ये भी पढ़ें-पति पर पत्नी को सांप से डसवाकर मारने का आरोप, सांप का होगा DNA टेस्ट

मामला फतनपुर के भुजौनी गांव का है, जहां सोमवार दोपहर में घर से निकले युवक अम्बिका पटेल का देर शाम आम के बाग़ में अधजली शव मिला. इसके बाद ग्रामीण आगबबूला हो गए और डायल 112 को सूचना दी. मौके पर सीओ रानीगंज पहुंचे. नाराज ग्रामीणों ने पुलिस पर ही पथराव कर दिया. इसमें काफी पुलिसकर्मी घायल हो गए और मौके से गाड़ी छोड़ कर भाग लिए.

प्रेस प्रसंग का मामला

ग्रामीणों ने पुलिस की 2 जीप समेत तीन वाहनों में आग लगा दी. ग्रामीणों ने पुलिस को गांव में आने से रोक दिया और जमकर तांडव किया. गांव में ऐसी चर्चा है कि अम्बिका पटेल का पड़ोस की एक लड़की से प्रेम संबंध था. लेकिन लड़की कुछ दिनों बाद यूपी पुलिस में कांस्टेबल के पद पर भर्ती हो गई थी और उसकी पोस्टिंग दूसरे शहर में हो गई.

इस दौरान लड़की की अम्बिका से दूरी बन गई. दोनों शादी करना चाहते थे. लेकिन परिजनों को यह बात नागवार गुजारी. उसके बाद अम्बिका ने कुछ दिनों पहले लड़की के साथ अपनी तस्वीर फेसबुक पर वायरल कर दी. इसके बाद लड़की के पिता ने छेड़खानी का मुकदमा फतनपुर कोतवाली में दर्ज करा दिया.

ये भी पढ़ें-गुरुग्राम में दिनदहाड़े युवक को गोलियों से भूना, गैंगवार की आशंका

मामला पुलिस विभाग से जुड़ा होने के नाते पुलिस ने आनन-फानन में अम्बिका पटेल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. लेकिन कोरोना महामारी में 1 मई को वह परोल पर छूट कर घर लौट आया. उसके बाद सोमवार को ये घटना हो गई.

दबंगों को पुलिस ने हिरासत में लिया

फिलहाल दोनों पक्ष से दर्जनों दबंगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है. मौके पर प्रयागराज जोन के आईजी और एडीजी भी पहुंचे. घटनास्थल का जायजा लिया. वहीं गांव में हत्या के बाद तनाव को देखते हुए पीएससी की 2 कंपनी को तैनात कर दिया गया है.

एसपी अभिषेक सिंह का कहना है कि युवक अम्बिका को पेड़ में बाधकर ज़िंदा जलाया गया है. हत्या के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस की तीन गाड़ियों में आगजनी और पुलिस पर पथराव किया है. लड़की की सोशल मीडिया पर अम्बिका ने फोटो वायरल की थी. परिजनों ने युवक पर छेड़खानी का मुक़दमा दर्ज कराया था. लड़की के परिजनों पर हत्या करने का आरोप है. सभी के खिलाफ मुक़दमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay