एडवांस्ड सर्च

पटियाला हाउस कोर्ट ने क्यों टाल दी निर्भया के दोषियों के डेथ वारंट पर सुनवाई?

पटियाला हाउस कोर्ट का कहना है कि अभी एक याचिका सुप्रीम कोर्ट में लिस्टेड है, ऐसे में उसी के बाद इस पर निर्णय हो सकेगा. पटियाला हाउस कोर्ट में इस याचिका को निर्भया के मां-बाप की ओर से दायर किया गया था.

Advertisement
aajtak.in
पूनम शर्मा / अनीषा माथुर नई दिल्ली, 13 December 2019
पटियाला हाउस कोर्ट ने क्यों टाल दी निर्भया के दोषियों के डेथ वारंट पर सुनवाई? निर्भया मामले में टल गई सुनवाई

  • निर्भया केस पर पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई टली
  • सुप्रीम कोर्ट में याचिका होने के कारण टली सुनवाई
  • दोषी अक्षय ने दायर की है SC में पुनर्विचार याचिका

निर्भया गैंगरेप मामले के दोषियों के खिलाफ जल्द डेथ वारंट जारी करने की याचिका पर सुनवाई अभी पटियाला हाउस कोर्ट में टल गई है. पटियाला हाउस कोर्ट का कहना है कि अभी एक याचिका सुप्रीम कोर्ट में लिस्टेड है, ऐसे में उसी के बाद इस पर निर्णय हो सकेगा. पटियाला हाउस कोर्ट में इस याचिका को निर्भया के मां-बाप की ओर से दायर किया गया था. पटियाला हाउस कोर्ट में शुक्रवार को क्या हुआ, पूरा मामला समझिए...

आज क्यों नहीं हो पाई सुनवाई?

निर्भया मामले में पटियाला हाउस कोर्ट की ओर से कहा गया कि क्योंकि इस मामले से जुड़ी एक याचिका सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई है, इस वजह से अभी सुनवाई नहीं हो सकती है.

सुप्रीम कोर्ट में निर्भया मामले में दोषी अक्षय कुमार ने फांसी के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर की है, इसपर 17 दिसंबर को सुनवाई होनी है. अब इसी मामले की सुनवाई के बाद पटियाला हाउस कोर्ट में 18 दिसंबर को दोपहर 2 बजे सुनवाई होगी.

निर्भया के मां-बाप की तरफ से करीब एक साल पहले पटियाला हाउस कोर्ट में ये याचिका दायर की गई थी कि दोषियों के खिलाफ जल्द से जल्द डेथ वारंट जारी किया जाए, ताकि फांसी की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा सके.

परिवार और दिल्ली पुलिस ने क्या कहा?

पटियाला हाउस कोर्ट में शुक्रवार को हुई सुनवाई के दौरान निर्भया के परिवार के वकील, दिल्ली पुलिस के वकीलों की तरफ से कहा गया कि डेथ वारंट को तुरंत जारी किया जाए. इसके लिए उन्होंने याकूब मेनन केस का हवाला दिया, वकीलों ने तर्क दिया कि उस मामले में भी डेथ वारंट जारी हो चुका है.

दिल्ली पुलिस की ओर से तर्क दिया गया कि पटियाला हाउस कोर्ट के पास अधिकार है कि वह डेथ वारंट जारी कर सकती है, अगर दोषी इसे चैलेंज करना चाहें तो हाईकोर्ट जा सकते हैं. हालांकि, जज ने सीधा कहा कि वह सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करेंगे.

निर्भया की मां ने क्या कहा?

शुक्रवार को सुनवाई टलने के बाद निर्भया की मां ने बयान दिया है कि वह सुनवाई से संतुष्ट हैं, लेकिन उन्हें शांति तभी मिलेगी जब उन दोषियों को फांसी के तख्ते पर लटका दिया जाएगा. बीते दिनों जब हैदराबाद रेप-हत्या मामले में आरोपियों को पुलिस एनकाउंटर में ढेर कर दिया गया था, उसी के बाद से ही देश में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अत्याचार पर गुस्सा बढ़ रहा है.

गौरतलब है कि 2012 में हुए निर्भया गैंगरेप मामले में चार दोषियों को फांसी की सजा सुना दी गई थी. निर्भया के दोषी अक्षय, पवन, विनय और मुकेश अभी तिहाड़ जेल में बंद हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay