एडवांस्ड सर्च

आखिर कौन है ये सलमान, जो भेज रहा है आतंकी ट्रेनिंग के वीडियो

उरी हमले से कुछ दिनों पहले आतंकियों ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया था. यह वीडियो पीओके से पाकिस्तानी नेटवर्क के जरिए अपलोड किया गया था. वीडियो में मौजूद आतंकियों को कश्मीर मुजाहिद्दीन का नाम दिया गया है.

Advertisement
aajtak.in
अरविंद ओझा / राहुल सिंह श्रीनगर, 02 October 2016
आखिर कौन है ये सलमान, जो भेज रहा है आतंकी ट्रेनिंग के वीडियो आतंकी कर रहे हैं ट्रेनिंग के वीडियो अपलोड

भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक के जरिेए आतंकियों के साथ-साथ पाकिस्तान को भी करारा जवाब दिया है. दरअसल पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में किस तरह से आतंकी कैंप चलाए जा रहे हैं इसका ताजा उदाहरण एक वीडियो के जरिए सामने आया है. उरी हमले से कुछ दिनों पहले आतंकियों ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया था. यह वीडियो पीओके से पाकिस्तानी नेटवर्क के जरिए अपलोड किया गया था.

'आज तक' के पास मौजूद वीडियो में आतंकी पहली बार किसी पीएम पर निशाना साधते हुए नजर आ रहे हैं. वीडियो में आतंकी भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लेकर टारगेट करने की बात कह रहे हैं. कथित वीडियो में आतंकी कश्मीर की आजादी और भारत की बर्बादी के नारे लगाते हुए भी नजर आ रहे हैं. दरअसल वीडियो में मौजूद आतंकियों को कश्मीर मुजाहिद्दीन का नाम दिया गया है.

सुरक्षा एजेंसियों और साइबर एक्सपर्ट्स ने जब वेबसाइट और कथित वीडियो की पड़ताल की तो चौंकाने वाला सच सामने आया. दरअसल पड़ताल में वेबसाइट का आईपी एड्रेस और लोकेशन पीओके की निकली, जिसका नेटवर्क पाकिस्तान में बताया गया.

पड़ताल में पता चला कि सोशल साइट्स पर मौजूद सलमान चौधरी नामक प्रोफाइल से फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर लगातार आतंकी वीडियो अपलोड किए जा रहे हैं. उरी हमले से कुछ दिनों पहले भी इसी अकाउंट से कुछ वीडियो अपलोड किए गए थे. साइबर एक्सपर्ट्स को अकाउंट की पड़ताल में पता चला कि यह अकाउंट साल 2014 में एक्टिव हुआ था. जिसके बाद से इस अकाउंट से लगातार आतंकी ट्रेनिंग के वीडियो अपलोड किए जा रहे हैं.

न्यूक्लियर वॉर पर भी होती है बात
इसमें से कई वीडियो में तो 2016 में भारत-पाकिस्तान के बीच न्यूक्लियर वॉर की बात भी की जा रही है. अंदाजा लगाया जा सकता है कि पीओके में कितने बड़े पैमाने पर बेहद हाईटेक तरीके से कश्मीर और हिंदुस्तान को तबाह करने की साजिश रची जा रही है. इंटरनेट पर कथित वेबसाइट और सोशल मीडिया के इन अकाउंट्स को पीओके के उसी हिस्से से चलाया जा रहा है, जहां बीते दिनों भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकी अड्डों को तबाह किया था.

पाक सेना और आईएसआई कर रही है मदद
यानी यह कहना हरगिज गलत नहीं होगा कि पीओके में अब हाईटेक तरीके से पाकिस्तानी सेना और आईएसआई की मदद से कश्मीर और हिंदुस्तान के खिलाफ जंग का साजिश चल रही है. कथित वीडियो में आतंकी पीओके में चलाए जा रहे आतंक के ट्रेनिंग कैंपों में ट्रेनिंग लेते नजर आ रहे हैं. वहीं वीडियो में आतंकी कश्मीर को आजाद करवाने और भारत की बर्बादी तक जंग जारी रखने को लेकर भी नारेबाजी करते नजर आ रहे हैं.

लंबे अरसे से पनप रहे हैं आतंक के ट्रेनिंग कैंप
बताते चलें कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर की सरजमीं पर लंबे अरसे से सैकड़ों आतंकी कैंप पाकिस्तानी सेना और आईएसआई के इशारे पर पनप रहे हैं. आतंकी ट्रेनिंग पूरी करने के बाद भारत में बड़े पैमाने पर घुसपैठ करते हैं और बेकुसूर लोगों को अपना निशाना बनाते हैं. दरअसल पीओके में चल रहे इन आतंकी कैंपों पर लगाम कसना और इन्हें नेस्तनाबूद करना भारत के लिए हमेशा से ही मुश्किल रहा है.

भारतीय सेना ने दिखाया अपना साहस
मगर हाल ही में भारतीय सेना ने अपने साहस और पराक्रम का परिचय देते हुए सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए पीओके में चलाए जा रहे कई आतंकी ठिकानों को नेस्तनाबूद कर दिखाया. सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए ना सिर्फ आतंकी कैंपों को निशाना बनाया गया बल्कि दर्जनों आतंकियों को भी मौत के घाट उतार दिया गया.

आतंकी आकाओं में सर्जिकल स्ट्राइक से बौखलाहट
गौरतलब है कि पीओके में एक ओर इन आतंकियों को भारत में हमलों के लिए तैयार किया जा रहा हैं, तो वहीं दूसरी ओर इंटरनेट पर आतंकी ट्रेनिंग के वीडियो अपलोड कर युवाओं को भी गुमराह किया जा रहा है. बहरहाल भारत सरकार ने जिस तरह से आतंकवाद के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक कर अपने इरादों को साफ कर दिया है, उससे पीओके में बैठे आतंक के आकाओं के बीच बौखलाहट साफ नजर आ रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay