एडवांस्ड सर्च

मध्य प्रदेश: गैंगरेप के बाद जिंदा जलाई गई नाबालिग लड़की की मौत

मध्य प्रदेश के सागर जिले में गैंगरेप के बाद जिंदा जलाई गई आठवीं कक्षा की छात्रा (15) सात दिनों तक संघर्ष करने के बाद आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई. उसको सात दिसंबर को आरोपियों ने सबूत छुपाने के लिए जलाकर मारने की कोशिश की थी.

Advertisement
aajtak.in [Edited by: मुकेश कुमार गजेंद्र]भोपाल, 14 December 2017
मध्य प्रदेश: गैंगरेप के बाद जिंदा जलाई गई नाबालिग लड़की की मौत मध्य प्रदेश के सागर जिले की घटना

मध्य प्रदेश के सागर जिले में गैंगरेप के बाद जिंदा जलाई गई आठवीं कक्षा की छात्रा (15) सात दिनों तक संघर्ष करने के बाद आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई. उसको सात दिसंबर को आरोपियों ने सबूत छुपाने के लिए जलाकर मारने की कोशिश की थी. सागर के मेडिकल कॉलेज में उसका इलाज चल रहा था. गुरुवार की सुबह उसकी मौत हो गई.

थाना प्रभारी रवि भूषण पाठक ने किशोरी की गुरुवार की सुबह इलाज के दौरान मौत हो गई. इस केस में वांछित दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. सात दिसंबर की रात को किशोरी अपने घर पर अकेली थी, तभी दो युवक पहुंचे और उसके साथ गैंगरेप किया. इसके बाद सबूत मिटाने के लिए किशोरी पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दिया.

किशोरी की हालत गंभीर होने पर उसे उपचार के लिए सागर लाया गया था. बीते सात दिन से उसका उपचार चल रहा था. छात्रा की गुरुवार को मौत हो गई. राज्य के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने पीड़िता के परिजनों को दो लाख रुपये की मदद का ऐलान किया था. इस वारदात से पूरे सागर में सनसनी फैल गई थी. लोगों ने कैंडल मार्च निकालकर प्रदर्शन किया था.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के रेप आरोपियों को मौत की सजा का विधेयक पारित किए जाने पर आज हो रहे सम्मान समारोह पर विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने ट्वीट किया है कि मुख्यमंत्री जी का आज जब सम्मान होगा, उस समय सागर की उस बालिका की अंत्येष्टि होगी, जिसे दुष्कर्म करने के बाद दरिंदों ने जिंदा जला दिया था.

बताते चलें कि कि राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के पिछले दिनों जारी हुए आंकड़ों ने भी इस बात का खुलासा किया है कि रेप के मामले में मध्य प्रदेश पूरे देश में अव्वल है. राज्य सरकार ने रेप आरोपियों को फांसी तक की सजा के प्रावधान का विधेयक विधानसभा में पारित कर दिया है. इसे अब राष्ट्रपति के पास भेजा जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay