एडवांस्ड सर्च

मेरठ: पंचायत का अजीब फरमान, दो सगी बहनों के तीन तलाक की कीमत 20 लाख

देश में तीन तलाक पर सख्त कानून बनने के बाद भी महिलाओं का उत्पीड़न अभी भी जारी है. ताजा मामला उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले का है जहां दो सगी बहनों का पहले ससुराल के लोगों ने उत्पीड़न किया. जब उनकी मां बचाव के लिए पहुंची तो उससे भी अभद्रता की गई.

Advertisement
aajtak.in
शि‍वेंद्र श्रीवास्तव लखनऊ, 23 August 2019
मेरठ: पंचायत का अजीब फरमान, दो सगी बहनों के तीन तलाक की कीमत 20 लाख प्रतीकात्मक तस्वीर

देश में तीन तलाक पर सख्त कानून बनने के बाद भी महिलाओं का उत्पीड़न अभी भी जारी है. ताजा मामला उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले का है जहां दो सगी बहनों का पहले ससुराल के लोगों ने उत्पीड़न किया. जब उनकी मां बचाव के लिए पहुंची तो उनसे भी अभद्रता की गई. इसके बाद जब पीड़ित महिलाओं ने थाने में मुकदमा दर्ज कराया तो आरोपी लोगों ने पंचायत बुलाकर दोनों बहनों के तलाक की कीमत 20 लाख रुपए तय कर दी.

दरअसल मेरठ के लिसाड़ीगेट इलाके की रहने वाली दो सगी बहनों की शादी 2 साल पहले पास के ही निवासी रिजवान और फुरकान नाम के दो भाइयों से हुई थी. शादी के बाद ही महिलाओं के साथ बुरा बर्ताव शुरू हो गया था. कई दिन जब ये मारपीट की वारदातें बंद नहीं हुई तब महिलाओं की मां मारपीट की शिकायत करने थाने पहुंची तो वहां भी महिला के साथ अभद्रता की गई.

जिसके बाद रिजवान ने पत्नी को तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया. इस बर्ताव से नाराज होकर लड़कियों ने भी उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया. पर जैसे ही मुकदमा शुरू हुआ तो इलाके का पंचायत सामने आ गया और इस मामले में पंचायत बुलाई गई. पंचायत ने दोनों बहनों को तलाक कराने का फरमान सुना दिया गया. इसके बाद पंचायत ने कहा इस तलाक की एवज में दोनों बेटियों को 8-8 लाख रुपए मिलेंगे. सास की बेइज्जती के एवज में रिजवान का परिवार उसे 4 लाख रुपये देगा.

पंचायत की शर्त ये है कि दोनों बेटियों का तलाक भी कराया जाएगा. पंचायत के इस फैसले पर पीड़ित पक्ष की महिलाएं नाराज हो गई और थाने फिर से शिकायत करने पहुंची. फिलहाल इस मामले में पुलिस जांच कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay