एडवांस्ड सर्च

दलितों को पुलिस ने वोट डालने से रोका? सतीश मिश्रा ने किया DGP को फोन

सतीश चंद मिश्रा ने फोन पर डीजीपी से कहा 'हमें विभिन्न मतदान केंद्रों से सूचना मिल रही है कि बसपा के मतदाताओं को विशेष रूप से दलितों को यूपी पुलिस द्वारा बल प्रयोग से मतदान केंद्रों तक जाने से रोका जा रहा है.

Advertisement
aajtak.in
परवेज़ सागर/ शि‍वेंद्र श्रीवास्तव लखनऊ, 12 April 2019
दलितों को पुलिस ने वोट डालने से रोका? सतीश मिश्रा ने किया DGP को फोन सतीश मिश्रा का आरोप है कि कई जगह पुलिस ने दलितों को मतदान केंद्र पर नहीं जाने दिया (फाइल फोटो)

बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने डीजीपी ओपी सिंह को फोन पर शिकायत दर्ज कराई है कि यूपी पुलिस दलित बहुल इलाकों में डर का माहौल बना रही, जिससे दलित वोटर कम निकलें, इस बात को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. सतीश मिश्र ने डीजीपी ओपी सिंह से कहा स्थिति नहीं सुधरी तो वे चुनाव आयोग में शिकायत करेंगे.

सतीश चंद मिश्रा ने फोन पर डीजीपी से कहा 'हमें विभिन्न मतदान केंद्रों से सूचना मिल रही है कि बसपा के मतदाताओं को विशेष रूप से दलितों को यूपी पुलिस द्वारा बल प्रयोग से मतदान केंद्रों तक जाने से रोका जा रहा है. यहां तक कि बल का उपयोग अधिकतम सीमा तक किया जा रहा है. ताकि वे अपने वोट डालने में सक्षम न हों.

सतीश चंद मिश्रा ने अपने गुस्से का इजहार करते हुए फोन पर डीजीपी से कहा कि यह सब हुक्मरानों के आदेश पर ही किया जा रहा है. ताकि दलितों को मतदान करने से रोका जा सके. इस पर तत्काल हस्तक्षेप की आवश्यकता है. अन्यथा चुनाव का कोई उद्देश्य और सीईसी के वोट करने संबंधी विज्ञापनों का कोई फायदा नहीं.

इस संबंध में डीजीपी की और से क्या कहा गया, ये भी पता नहीं चल पाया. हालांकि सतीश चंद मिश्रा की डीजीपी से तल्ख लहजे में हुई इस बातचीत को लेकर चर्चा ज़रूर शुरू हो गई है.

उधर, बसपा महासचिव सतीश मिश्रा ने ये भी शिकायत दर्ज कराई है कि कई मतदान केंद्रों पर मतदाता बसपा का बटन दबा रहे हैं, लेकिन वोट भाजपा को जा रहा है. इस संबंध में उन्होंने आयोग के अधिकारियों को भी अवगत कराया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay