एडवांस्ड सर्च

केरल में पादरी को जेल, बॉयज होम में बच्चों के यौन शोषण का आरोप

सात बच्चों के माता-पिता की शिकायत के अनुसार, पादरी काफी समय से बच्चों का यौन शोषण कर रहा था. आरोपी पादरी कोच्चि में सेक्रेड हार्ट्स बॉयज होम का डायरेक्टर है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in कोच्चि, 07 July 2019
केरल में पादरी को जेल, बॉयज होम में बच्चों के यौन शोषण का आरोप प्रतीकात्मक तस्वीर (फाइल फोटो)

केरल में एक ईसाई पादरी को बॉयज होम में बच्चों के यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. आरोपी पादरी का नाम फैंसिस जॉर्ज है और वह कोच्चि में सेक्रेड हार्ट्स बॉयज होम का डायरेक्टर है. बॉयज होम के बच्चों की शिकायत पर जॉर्ज की गिरफ्तारी हुई है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि बॉयज होम के कुछ बच्चे वहां से भाग कर बाहर आए और एक राहगीर की मदद से अपने घर वालों को फोन किया. बच्चों ने फोन पर अपनी आपबीती सुनाई. बाद में घरवालों ने पुलिस से संपर्क किया और जॉर्ज के सारे भेद खुल गए.

पल्लुरूथी पुलिस थाने के एक अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि पेरूम्पडम बॉयज होम के निदेशक जॉर्ज उर्फ जेरी (40) को बच्चों के माता-पिता की शिकायत के आधार पर गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि बच्चों के माता-पिता की शिकायत के आधार पर पादरी को हिरासत में लिया गया और रविवार को उसकी गिरफ्तारी हुई. सात बच्चों के माता-पिता की शिकायत के अनुसार, पादरी काफी समय से बच्चों का यौन शोषण कर रहा था.

बॉयज होम में रहने वाले बच्चों के मुताबिक, फ्रैंसिस जॉर्ज दिसंबर 2018 से बच्चों का यौन शोषण कर रहा था. घटना तब जानकारी में आई जब कुछ बच्चों ने इसकी शिकायत अपने माता-पिता से की. बाद में इसकी शिकायत पुलिस से की गई. स्थानीय पुलिस ने जॉर्ज को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ पोक्सो के तहत आईपीसी की धारा 377, 7/8, 9डी में मामला दर्ज किया है. जॉर्ज के खिलाफ जुवेनाइल जस्टिस एक्ट की धारा 75 के तहत भी केस दर्ज हुआ है. बाद में उसे कोर्ट में पेश किया गया जहां उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay