एडवांस्ड सर्च

कमलेश तिवारी हत्याकांड: पत्नी बोली- CM के आने तक नहीं होगा अंतिम संस्कार

लखनऊ में हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या के बाद बवाल बढ़ता जा रहा है. कमलेश तिवारी के परिजनों ने परिवार के दो सदस्यों के लिए नौकरी की मांग की है. साथ ही कहा है कि जब तक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं यहां नहीं आएंगे, वो दाह संस्कार नहीं करेंगे. कमलेश तिवारी की पत्नी ने कहा है कि हमारी मांग नहीं मानी गई तो मैं आत्मदाह कर लूंगी.

Advertisement
aajtak.in
अरविंद ओझा सीतापुर/लखनऊ, 19 October 2019
कमलेश तिवारी हत्याकांड: पत्नी बोली- CM के आने तक नहीं होगा अंतिम संस्कार कमलेश तिवारी (फाइल फोटो-IANS)

  • कमलेश तिवारी के परिवार के दो सदस्यों के लिए नौकरी की मांग
  • परिजन बोले-जब तक CM नहीं आएंगे वे दाह संस्कार नहीं करेंगे

लखनऊ में हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या के बाद बवाल बढ़ता जा रहा है. कमलेश तिवारी के परिजनों ने परिवार के दो सदस्यों के लिए नौकरी की मांग की है. साथ यह भी कहा है कि जब तक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं यहां नहीं आएंगे वे दाह संस्कार नहीं करेंगे. मृतक कमलेश तिवारी की पत्नी ने कहा है कि हमारी मांग नहीं मानी गई तो मैं आत्मदाह कर लूंगी.

कमलेश तिवारी की हत्या को लेकर परिजनों और स्थानीय लोगों में काफी नाराजगी है. पुलिस शुक्रवार देर रात पोस्टमॉर्टम के बाद कमलेश तिवारी का शव उनके कार्यालय लेकर पहुंची. लेकिन वहां लोगों का गुस्सा और विरोध देखते हुए पुलिस शव लेकर उल्टे पांव लौट गई. बाद में पुलिस कमलेश तिवारी के शव को लेकर उनके पैतृक जिले सीतापुर के महमूदाबाद के लिए रवाना हो गई. 

लखनऊ में शुक्रवार को कमलेश तिवारी की गला रेतकर हत्या कर दी गई. कमलेश तिवारी खुर्शीदबाग में स्थित अपने दफ्तर में थे कि दो लोग मिठाई का डिब्बा साथ लेकर उनसे मिलने आए. कमलेश तिवारी इस बात से बेखबर थे कि उनकी हत्या भी हो सकती है. कमलेश तिवारी पर पहले पिस्टल से गोली चलाई गई लेकिन बाद में गला रेतकर हत्या की गई.

वहीं चुनावी दौरे से लौटने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कमलेश तिवारी हत्याकांड को लेकर सख्त तेवर दिखाया है. उन्होंने इस मामले में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी और डीजीपी ओपी सिंह से तत्काल विस्तृत रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए हैं.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने बताया, "ऐसा लग रहा है कि आपसी रंजिश के तहत घटना को अंजाम दिया गया है. मामले की छानबीन में 10 टीमें लगाई गई हैं. मौके पर एक पिस्तौल बरामद हुई है, उसकी जांच की जा रही है. इलाके के आसपास लगे सभी सीसी कैमरे खंगाले जा रहे हैं."

हत्यारों की हुई पहचान!

हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी के संदिग्ध हत्यारों का वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में दो युवकों के साथ एक युवती भी दिखाई दे रही है. एक युवक के हाथ में पॉलीथिन है. शक है कि इस पॉलीथिन में वो मिठाई का डिब्बा है जिसमें हत्यारे असलहा लेकर आए थे. बहरहाल, पुलिस ने संदिग्धों की पहचान कर ली है और उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay