एडवांस्ड सर्च

पेट्रोल के दाम बढ़ने से बढ़ेगी महंगाई: प्रणव

वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने कहा कि पेट्रोल की कीमतों में हाल की वृद्धि का मुद्रास्फीति पर कुछ असर पड़ेगा. सकल मुद्रास्फीति दोहरे अंक के करीब पहंच चुकी है.

Advertisement
भाषानई दिल्‍ली, 04 November 2011
पेट्रोल के दाम बढ़ने से बढ़ेगी महंगाई: प्रणव

वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने कहा कि पेट्रोल की कीमतों में हाल की वृद्धि का मुद्रास्फीति पर कुछ असर पड़ेगा. सकल मुद्रास्फीति दोहरे अंक के करीब पहंच चुकी है.
आजतक लइव टीवी देखने के लिए क्लिक करें 

मुखर्जी ने कहा, ‘निश्चित रूप से मुद्रास्फीति पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ेगा, लेकिन तेल कीमतें ऊपर जा रही है और पेट्रोल नियंत्रण मुक्त है.’ तेल कंपनियों ने रुपये के मूल्य में गिरावट के कारण कच्चे तेल आयात की लागत में वृद्धि का हवाला देते हुए बृहस्‍पतिवार को पेट्रोल की कीमत में 1.80 रुपया प्रति लीटर की वृद्धि की. इस वृद्धि के मद्देनजर दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 68.64 रुपये लीटर हो गयी है.
महंगाई के खिलाफ बीजेपी ने हल्‍ला बोला 

यह पूछे जाने पर कि कीमत वृद्धि को लेकर सरकार की सहयोगी दलों को अंधेरे में क्यों रखा गया, मुखर्जी ने कहा, ‘सरकार में कोई नहीं जानता. क्योंकि पेट्रोल कीमतों में वृद्धि तेल कंपनियां कर रही है न कि सरकार. डीजल केरोसीन और गैस जरूरी नियंत्रित वस्तुएं हैं.’ संप्रग सहयोगी तृणमूल कांग्रेस ने पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि को लेकर नाराजगी जतायी है. जहां माकपा ने पेट्रोल की कीमत में वृद्धि को वापस लेने की मांग की है,वहीं मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा ने लोगों के साथ ‘आधीरात की धोखाधड़ी’ करार दिया है.
आजतक पर पल-पल की खबरें जाननें के लिए करें क्लिक 

पेट्रोल की कीमत में वृद्धि उस समय हुई है जब सकल प्रकार की वस्तुओं पर आधारित मुद्रास्फीति दोहरे अंक के करीब पहंच चुकी है और इस कदम का कीमतों पर व्यापक असर पड़ सकता है. सितंबर महीने में सकल मुद्रास्फीति 9.72 प्रतिशत रही जो रिजर्व बैंक के 5-6 प्रतिशत के सामान्य स्तर से अधिक है. पिछले वर्ष जून में पेट्रोल की कीमत को नियंत्रणमुक्त कर दिया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay