एडवांस्ड सर्च

आतंक के साए में भारतीय रेल, अब चारबाग को बम से उड़ाने की धमकी

भारतीय रेल इनदिनों आतंकियों और अपरधियों के निशाने पर है. लगातार ट्रैक और ट्रेन से जुड़ी घटनाओं के बीच रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी मिल रही है. ताजा मामला यूपी की राजधानी लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन का है. यहां रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी भरा फोन आया, जिसके बाद रेलवे अफसरों में हड़कंप मच गया.

Advertisement
aajtak.in
मुकेश कुमार लखनऊ, 11 May 2017
आतंक के साए में भारतीय रेल, अब चारबाग को बम से उड़ाने की धमकी बम से उड़ाने की धमकी भरा फोन आने से हड़कंप

भारतीय रेल इनदिनों आतंकियों और अपरधियों के निशाने पर है. लगातार ट्रैक और ट्रेन से जुड़ी घटनाओं के बीच रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी मिल रही है. ताजा मामला यूपी की राजधानी लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन का है. यहां रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी भरा फोन आया, जिसके बाद रेलवे अफसरों में हड़कंप मच गया.

बम से उड़ाने की सूचना मिलते ही जीआरपी ने स्टेशन पर सघन तलाशी अभियान शुरू कर दिया. रेलवे स्टेशन परिसर, प्लेटफार्मों, पार्किंग के चप्पे-चप्पे की तलाशी ली गई. हर यात्रियों के सामान की चेकिंग हुई. हालांकि, दो घंटे तक चली जांच में कुछ हाथ नहीं लगा, लेकिन फिलहाल जांच जारी है. रेलवे प्रशासन इसे अफवाह बताया है, लेकिन सतर्कता जारी है.

उत्तर रेलवे जीआरपी के इंस्पेक्टर के मुताबिक चारबाग रेलवे स्टेशन के कंट्रोल रूम पर बुधवार सुबह 9:30 बजे सूचना मिली कि चारबाग रेलवे स्टेशन पर बम है. चौबीस घंटे में स्टेशन उड़ा दिया जाएगा. फोन करने वाले ने अपना नाम 'चार्ली' बताया. धमकी की सूचना मिलते ही तुरंत उच्चाधिकारियों के साथ ही जीआरपी की टीम सक्रिय हो गई.

रेलवे पुलिस ने ली चप्पे-चप्पे की तलाशी
बम निरोधक दस्ते को सूचना दी गई और चारबाग रेलवे स्टेशन पर सघन तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया है. मौके पर जीआरपी पूर्वोत्तर रेलवे के प्रभारी, आरपीएफ की टीम बम निरोधक दस्ता की दो टीमें पहुंची. टीम ने सभी प्लेटफार्मो, रेलवे स्टेशन परिसर, पार्किंग सहित चप्पे-चप्पे की जांच की, लेकिन 2 घंटे तक तलाशी के बाद भी कुछ हासिल नहीं हुआ.

रेल पर आंतकी साजिश की सुगबुगाहट
तलाशी के बाद रेलवे प्रशासन ने फिर राहत की सांस ली. पुलिस ने धमकी भरे फोन नंबर को ट्रेस किया गया, तो झारखंड का निकला. इसके बाद रेलवे प्रशासन इस फोन को अफवाह करार दे रहा है. लेकिन हाल ही में हुए तमाम रेल हादसों और उनके पीछे आंतकी साजिश की सुगबुगाहट को देखते हुए प्रशासन इस धमकी को हल्के में भी नहीं ले रहा है.

हो सकती है ISIS या ISI की करतूत
बताते चलें कुछ महीने पहले ही दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस ने राजस्थान के धौलपुर रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी दी थी. यह धमकी बाकयदा एक पत्र जारी करके दी गई. इसके बाद धौलपुर रेलवे स्टेशन सहित कई महत्वपूर्ण जगहों की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी. आरपीएफ स्टेशन पर संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रख रही है.

पीएम और रेलमंत्री भी कर चुके सचेत
इससे पहले रेलमंत्री सुरेश प्रभु भी आशंका जता चुके हैं कि देश में हुए कुछ हालिया रेल हादसे आतंकियों की करनी हो सकते हैं. एनआईए कई रेल हादसों की इस एंगल से जांच कर रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी एक बार दावा किया था कि कानपुर में ट्रेन हादसे के पीछे आतंकियों का हाथ था. उन्होंने आतंकी साजिश से सचेत रहने के लिए कहा था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay