एडवांस्ड सर्च

जेपी नड्डा का राहुल पर तंज, कहा- CAA पर 10 लाइन बोलकर दिखाएं

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि नागरिकता कानून का कांग्रेस बेवजह विरोध कर रही है.

Advertisement
aajtak.in
अशोक सिंघल नई दिल्ली, 17 January 2020
जेपी नड्डा का राहुल पर तंज, कहा- CAA पर 10 लाइन बोलकर दिखाएं बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा (फोटो-PTI)

  • राहुल ने CAA पढ़ा ही नहीं, ना ही उन्हें कोई जानकारी- नड्डा
  • राजनीतिक कारणों से नागरिकता कानून का हो रहा है विरोध

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि नागरिकता कानून का कांग्रेस बेवजह विरोध कर रही है.

जेपी नड्डा ने कहा कि देश को गुमराह करने के लिए नागरिकता कानून का विरोध किया जा रहा है. राहुल गांधी के पास नागरिकता कानून को लेकर कोई जानकारी नहीं है. वह 10 लाइनें भी नागरिकता कानून के बारे में बोल नहीं सकते, क्योंकि उन्होंने नागरिकता कानून पढ़ा ही नहीं,  ना ही उनको कोई जानकारी है. 

Delhi Election 2020: बीजेपी ने जारी की 57 उम्मीदवारों का ऐलान, यहां देखें पूरी लिस्ट

बीजेपी नेता ने कहा कि सिर्फ राजनीतिक कारणों से नागरिकता कानून का विरोध किया जा रहा है. क्योंकि कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी के पास कोई मुद्दा ही नहीं है. कांग्रेस पार्टी में कोई नेता रह नहीं गया जो इन सब चीजों को समझ सके. राहुल गांधी तो 10 लाइन सीएए पर बोल कर दिखा दें.  

जेपी नड्डा ने कहा कि दुर्भाग्य है कि कांग्रेस और वामपंथियों के लिए वोट पहले है, देश बाद में है. मोदी के लिए देश पहले है, राजनीति बाद में. कांग्रेस और वामपंथियों ने वोट के लिए फैसले लिए. अनुच्छेद 370 को भी इन्होंने (कांग्रेस) स्थायी क्यों नहीं किया. समस्याओं को उलझा कर रखना चाहते हैं. राजनीति करना चाहते हैं. मोदी सरकार ने  6 महीने में जो काम कर दिया वो 70 साल में नहीं हुआ. देश के लिए कठोर फैसले मोदी ने लिए हैं. अमित शाह ने सूत्रधार बनकर इन को अमलीजामा पहनाया.

ये भी पढ़ेंः कांग्रेस छोड़ गए नेताओं को रास नहीं आई BJP, एक-एक कर हो रही है घर वापसी

बीजेपी नेता ने कहा कि जो लोग नागरिकता कानून का विरोध कर रहे हैं, वह देश को कमजोर कर रहे हैं. इनके पास कोई मुद्दा नहीं रह गया है. देश को गुमराह करने का अधिकार किसी को नहीं है. हमारी जिम्मेवारी बनती है कि हम लोग जाकर सच्चाई बताएं.

जेपी नड्डा का कहना है कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं की संख्या काफी घटी है. वहां पर चाहे वह हिंदू हो, सिख हो, इसाई हो, बौद्ध हो, अगर उनका धार्मिक उत्पीड़न हुआ है तो लोग भारत में शरणार्थी बनकर आए हैं. यह हमारा फर्ज है कि हम उनको नागरिकता दें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay