एडवांस्ड सर्च

Advertisement

दोस्तों को पैसा देकर पिता ने कराया बेटी के प्रेमी का मर्डर

दोस्तों को पैसा देकर पिता ने कराया बेटी के प्रेमी का मर्डर
सुजीत झा [Edited by: रोहित उपाध्याय]पटना, 14 November 2017

दुनिया में सबसे खूबसूरत अगर कुछ है तो वो प्रेम है. लेकिन समाज की आंखों में प्रेम हमेशा से काटों की तरह चुभता रहा है. चंदन और प्रीति को मार दिया गया है लेकिन दोनों का प्यार अमर रहेगा.

मामला बिहार के सासाराम का है. झूठी प्रतिष्ठा के नाम पर प्रेमिका के पिता ने पहले प्रेमी की हत्या की और फिर अपनी बेटी की भी जान ले ली. मामले में आरोपी पिता के साथ-साथ 4 और सुपारी हत्यारों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

रोहतास जिला के मुफस्सिल थाना के मोहद्दीगंज में पिछले दो साल से बीए के छात्र चंदन और इंटर की छात्रा प्रीति के बीच प्रेम था. इसकी भनक जब प्रीति के पिता गया सिंह को लगी तो उन्होंने पहले प्रीति को मना किया लेकिन प्रीति के ना मामने पर उसके पिता ने वो फैसला ले लिया जो प्रीति ने सपने में भी नहीं सोचा होगा.

प्रीति के पिता गया सिंह ने चंदन को रास्ते से हटाने के लिए उसी के दोस्तों को खरीद लिया. उसने चंदन के तीन दोस्तों को दो लाख में खरीद लिया और 19 सितम्बर को उन्हीं तीनों दोस्तों से चंदन को कैमूर पहाडी के मांझर कुंड में बुला कर गोली मार कर हत्या करवा दी. जब चंदन कई दिनों तक नहीं मिला तो पुलिस ने तकनीकी रूप से जांच की. पता चला की चंदन का उनके ही गांव के प्रीति से पिछले कई वर्षों से कई-कई घंटे रात में मोबाइल पर बात होती थी. फोन पर अंतिम बार बात भी प्रीति से ही हुई थी. जांच के बाद पुलिस ने जब प्रीति तथा उसके पिता और चंदन के दोस्तों से पूछताछ शुरू की तो डर से गया सिंह ने साक्ष्य मिटाने के लिए अपने ही बेटी प्रीति की 8 नवम्बर को घर में ही गला दबा कर हत्या कर दी और किरोसिन तेल डाल कर शव को जला दिया. गया सिंह ने प्रीति की हत्या को आत्महत्या बताकर पुलिस को गुमराह की कोशिश की.

चंदन के पिता ने कहा कि गया सिंह ने झूठी शान के लिए उनके बेटे की हत्या कर दी. चंदन और प्रीति का सिर्फ गुनाह ये था की दोनों अलग अगल जाति के थे. लडकी के पिता की करतूतों की भनक पुलिस को तब हुई जब प्रीति के पोस्टमार्टम रिपोर्ट मे गला दबा कर हत्या की बात सामने आई. पुलिस ने गया सिंह को हिरासत मे लेकर जब कड़ाई से पूछताछ की तो चंदन और प्रीति दोनों की हत्या की बात कबूल की और गुनाह में शामिल सभी अपराधियों का नाम बताया.

गया सिंह की निशानदेही पर मांझर कुंड से चंदन का कंकाल, उसके कपडे, बेल्ट और घड़ी पुलिस ने बरामद किया. मामले में पुलिस ने चंदन के तीन दोस्तों, प्रीति के पिता समेत 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया और चंदन के कंकाल को फॉरेंसिंक जांच के लिए भेज दिया है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay