एडवांस्ड सर्च

17 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में रहेगी राम रहीम की चहेती हनीप्रीत

बलात्कारी बाबा राम रहीम की चहेती हनीप्रीत की न्यायिक हिरासत 17 नवंबर तक बढ़ा दी गई है. हनीप्रीत अंबाला जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पंचकूला कोर्ट में पेश हुई. वहां सुनवाई के बाद कोर्ट ने उसकी न्यायिक हिरासत बढ़ा दी. इसके बाद हनीप्रीत के परिजन उससे मिलने के लिए जेल पहुंच गए. बताया जा रहा है कि तीन लोग मिलने पहुंचे हैं.

Advertisement
aajtak.in
मुकेश कुमार/ मनजीत सहगल चंडीगढ़, 06 November 2017
17 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में रहेगी राम रहीम की चहेती हनीप्रीत बलात्कारी बाबा राम रहीम की चहेती हनीप्रीत

बलात्कारी बाबा राम रहीम की चहेती हनीप्रीत की न्यायिक हिरासत 17 नवंबर तक बढ़ा दी गई है. हनीप्रीत अंबाला जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पंचकूला कोर्ट में पेश हुई. वहां सुनवाई के बाद कोर्ट ने उसकी न्यायिक हिरासत बढ़ा दी. इसके बाद हनीप्रीत के परिजन उससे मिलने के लिए जेल पहुंच गए. बताया जा रहा है कि तीन लोग मिलने पहुंचे हैं.

जानकारी के मुताबिक, जेल प्रशासन ने हनीप्रीत के परिजनों को कंप्यूटर रूम में बैठाया है. उन्हें मीडिया के कैमरों से बचाने की पूरी कोशिश की जा रही है. पिछली बार जेल प्रशासन पर हनीप्रीत को लिए नियम की धज्जियां उड़ाने का आरोप लगा था. उस वक्त हनीप्रीत के परिजनों की गाड़ी न जेल में गई, बल्कि किसी तरह की सुरक्षा जांच और पूछताछ भी नहीं हुई.

उधर, हरियाणा पुलिस ने हनीप्रीत की वह गुप्त डायरी ढूंढ निकाली है, जिसमें उसने डेरा की आमदनी का हिसाब-किताब लिखा है. पुलिस को दो डायरियां मिली हैं. एक पॉकेट डायरी है. इसमें डेरा की आमदनी से जुड़ा हिसाब-किताब लिखा है. इसमें लिखा है कि डेरा की कौन सी शाखा से कितना पैसा आया. कितना दान मिला, कितना चढ़ावा चढ़ा.

पुलिस डायरी के पन्ने जांच रही है. डायरी की फोटोकॉपी करके इनकम टैक्स विभाग को सौंपी गई है. पुलिस डायरी से यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि क्या 25 अगस्त को पंचकूला में हिंसा फैलाने के लिए जिन गुंडों पर पांच करोड़ रुपये खर्च किए गए थे, उसका हिसाब भी इस डायरी में है की नहीं. हिंसा फैलाने के लिए पांच करोड़ रुपये दिए गए थे.

पंचकूला में डेरा के गैंग ने हिंसा फैलाया था. इसमें डेरा शाखा का मुखिया चमकौर सिंह भी शामिल था. इसे 1.25 करोड़ रुपये दिए गये थे. उसने पुलिस पूछताछ में कबूला था कि ये रुपये उसे डेरा के वाइस चेयरमैन डॉ. पीआर नैन के जरिए मिले थे. पुलिस ने 25 लाख रुपये उससे बरामद किए थे. उसने हिंसा की मास्टरमाइंड हनीप्रीत को बताया था.

मिली हनीप्रीत की पर्सनल डायरी

सिरसा के एक सीनियर पुलिस अधिकारी के मुताबिक पुलिस को एक और डायरी मिली है, जो सामान्य आकर की है. यह एक डेली डायरी है. इसमें हनीप्रीत ने अपने व्यक्तिगत जीवन से जुड़ी बातें लिखी हैं. कुछ पन्नों पर अपनी फिल्मों की शूटिंग की जानकारी लिखी है, तो कुछ पर राम रहीम को लेकर लिखा गया है. इसमें ज्यादातर हनीप्रीत ने पर्सनल बातें ही लिखी हैं.

ये राज जानना चाहती है पुलिस

पुलिस इस डायरी की छानबीन कर रही है. पुलिस को उस जानकारी की तलाश है, जिसमें हनीप्रीत ने 25 अगस्त और उससे पहले राम रहीम को जेल से भगाने का प्लान बनाया था. इसमें कुछ अप्रवासी भारतीयों के नाम, पते और फोन नंबर भी दर्ज किए गए हैं, जो फरारी के बाद राम रहीम को पनाह देने वाले थे. इसके बाबा को मदद कर रहे कुछ लोगों के भी नंबर हैं.

सलमान और आमिर फेवरेट स्टार

जेल की सलाखों के पीछे आंसू बहा रही हनीप्रीत दरअसल एक भावुक औरत है. उसे बचपन से ही डायरी लिखने का शौक था. वह स्कूल छोड़ने के बाद से ही डायरी लिखा करती थी. उसके मन मे जो भी आता वह उसे कागज पर उकेर देती थी. उसे फिल्मों में भी काफी दिलचस्पी थी. सलमान खान, आमिर खान उसके पसंदीदा अभिनेता और काजोल अभिनेत्री रही है.

राम रहीम पर लिखा था गीत

हनीप्रीत की डायरी के पन्नों में काजोल की कई तस्वीरें चिपकी मिली हैं. पुलिस को अब तक हनीप्रीत की तीन डायरियां मिल चुकी हैं. इससे पहले हनीप्रीत द्वारा टीनएज में लिखी एक डायरी भी मिली थी, जिसमें उसने शेरो-शायरी के अलावा अपने असफल प्रेम और दिल टूटने की बातें भी लिखी थी. उसने राम रहीम को लेकर एक गीत भी लिखा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay