एडवांस्ड सर्च

कसौली हत्याकांडः आरोपी विजय ठाकुर 5 दिन की पुलिस रिमांड पर

कसौली हत्याकांड के आरोपी विजय ठाकुर को अदालत ने पांच दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. हिमाचल और दिल्ली पुलिस की संयुक्त टीम ने गुरुवार को उसे उत्तर प्रदेश के वृंदावन से गिरफ्तार किया था. वह 3 दिन से पुलिस को चकमा दे रहा था.

Advertisement
मनजीत सहगल [Edited by: परवेज़ सागर]कसौली, 04 May 2018
कसौली हत्याकांडः आरोपी विजय ठाकुर 5 दिन की पुलिस रिमांड पर पुलिस आरोपी विजय के बैंक खातों की जांच भी करेगी

कसौली हत्याकांड के आरोपी विजय ठाकुर को अदालत ने पांच दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. हिमाचल और दिल्ली पुलिस की संयुक्त टीम ने गुरुवार को उसे उत्तर प्रदेश के वृंदावन से गिरफ्तार किया था. वह 3 दिन से पुलिस को चकमा दे रहा था.

कसौली हत्याकांड के आरोपी विजय ठाकुर को शुक्रवार की दोपहर कसौली की स्थानीय अदालत में पेश किया गया. जहां पुलिस के आग्रह पर कोर्ट ने आरोपी विजय को 5 दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया. पुलिस ने रिमांड हासिल करने के लिए कोर्ट में दलील दी थी कि उसे आरोपी का रिवाल्वर बरामद करना है.

ये वही रिवाल्वर है, जिसका इस्तेमाल आरोपी विजय ठाकुर ने सहायक नगर नियोजन अधिकारी शैलबाला शर्मा की हत्या के लिए किया की थी. इसके अलावा पुलिस को शेष 23 जिंदा गोलियां भी बरामद करनी हैं, जो आरोपी ने कथित तौर पर अपने गेस्ट हाउस के साथ लगे जंगल में कहीं फेंक दी थी.

उधर, पुलिस पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल करते हुए माना है कि वह महिला अधिकारी को पिस्तौल दिखाकर डराना चाहता था ताकि वह उसके गेस्ट हाउस को तुड़वाना बंद कर दे और वहां से चली जाए. लेकिन जब उसकी धमकी का महिला अधिकारी पर कोई असर नहीं हुआ तो उसने तैश में आकर तीन गोलियां चला दी. जिनमें से दो महिला अधिकारी और एक मजदूर को लगी. जिसे गंभीर अवस्था में पीजीआई चंडीगढ़ में भर्ती करवाया गया है.

मृतका के परिजनों में पुलिस के खिलाफ रोष

मृतक महिला अधिकारी के परिवार में पुलिस के खिलाफ जबरदस्त रोष है. मृतक महिला के परिवार वाले मौके पर मौजूद रहे सभी पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई चाहते हैं. हालांकि राज्य सरकार ने सोलन के SP मोहित चावला और परमाणु के डीएसपी रमेश शर्मा का तबादला कर दिया है. लेकिन इससे परिवार के सदस्य खुश नहीं हैं.

ऐसे हुई आरोपी की गिरफ्तारी

इससे पहले पुलिस ने गुरुवार को आरोपी विजय ठाकुर को मथुरा के वृंदावन से गिरफ्तार कर लिया था. घटना के बाद से ही पुलिस उसकी तलाश कर रही थी. इसी दौरान उसकी लोकेशन दिल्ली दिखाई दी. तो हिमाचल पुलिस ने दिल्ली पुलिस से मदद ली. मगर जब पुलिस उसे पकड़ पाती तब वह यूपी में दाखिल हो गया. बुधवार रात से ही उसकी लोकेशन मथुरा में रिफाइनरी के पास नज़र आ रही थी. इसी के चलते गुरुवार को पुलिस की संयुक्त टीम ने हत्यारोपी विजय को वृंदावन से गिरफ्तार कर लिया था.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay