एडवांस्ड सर्च

एक कमरा, दो लाशें और पुलिस बोली- दोनों ने एक-दूसरे को मारी गोली

गुरुग्राम के मानेसर में दो युवको का मर्डर हो गया. दो दोस्तों ने एक दूसरे को गोली मार दी. रात में आपस में बहस होने के बाद ये घटना घटी. पुलिस के मुताबिक दोनों आपराधिक गतिविधियों में शामिल रहे हैं.

Advertisement
aajtak.in
तनसीम हैदर / श्याम सुंदर गोयल नई द‍िल्ली, 30 November 2018
एक कमरा, दो लाशें और पुलिस बोली- दोनों ने एक-दूसरे को मारी गोली  मृतक (Photo:aajtak)

दिल्ली से सटे गुरुग्राम के मानेसर में दो युवकों के शव मिलने से सनसनी फैल गई. दोनों युवक आपस में दोस्त बताए जा रहे हैं. पुलिस का कहना है कि दोनों का आपराधिक इतिहास है. पुलिस को लगता है कि दोनों के बीच किसी बात लेकर विवाद हुआ और दोनों ने एक दूसरे को गोली मार दी. हालांकि अभी मामले की छानबीन चल रही है.

साइबर सिटी गुरुग्राम के मानेसर इलाके में दो लोगों की संदिग्ध मौत हो गई. दोनों एक किराए के मकान में साथ रहते थे. जब सुबह उनका तीसरा साथी काम से लौटकर वापस आया तो इस वारदात का खुलासा हुआ. शुरुआती जांच के बाद पुलिस का मानना है कि दोनों का आपस में कोई झगड़ा हुआ होगा, जिसके बाद दोनों ने एक-दूसरे को गोली मार ली. पुलिस को मौके से दो देसी पिस्टल भी बरामद हुई है.

वारदात मानेसर में कसन रोड की है. मामले की जानकारी पुलिस को दी गई जिसके बाद मौके पर पुलिस के आला अधिकारी के साथ साथ फोरेंसिक एक्सपर्ट की टीम भी मौके पर पहुंची. शुरुआती जांच में सामने आया कि हरियाणा के महेन्द्रगढ़ और नारनौल के रहने वाले तीन दोस्त सुभाष, विकास और विक्रांत मानेसर में एक किराए के मकान में रहते थे. विक्रांत मानेसर में ही एक निजी कंपनी में काम करता है, जबकि सुभाष और विकास कुछ दिन पहले ही काम की तलाश में मानेसर आए थे.

रात में जब विक्रांत अपने ऑफिस चला गया तो सुभाष और विकास दोनों कमरे में मौजूद थे. पूरी वारदात का खुलासा सुबह उस वक्त हुआ जब सुबह 8 बजे विक्रांत ऑफिस से वापस आया. उसने देखा कि कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था. उसने खिड़की से झांककर देखा तो सुभाष और विकास दोनों लहूलुहान हालत में पड़े हुए थे. सबसे पहले विक्रांत ने ये बात मकान मालिक को बताई और फिर पुलिस को सूचना दी.

पुलिस को कमरे से शराब की बोतलें, दो देसी पिस्टल और जिंदा कारतूस भी बरामद हुए हैं. पुलिस के मुताबिक,  दोनों युवक आपराधिक गतिविधियों में लिप्त थे. विकास हत्या के आरोप में जेल भी जा चुका है. पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है.

 पुलिस ने दोनों शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं. पुलिस इस एंगल से भी जांच कर रही है कि इन दोनों का हथियार लेकर गुरुग्राम आने का असली मकसद क्या था?  क्या ये दोनों गुरुग्राम में किसी वारदात को अंजाम देने के लिए आए थे? जानकारी मिलने के बाद फिलहाल मृतक के परिजन भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay