एडवांस्ड सर्च

बहू ने ससुर को बताया चुड़ैल, बेटे-बेटी और पत्नी ने मिलकर वृद्ध को मार डाला

कानजी की बहू निशिता ने एक खौफनाक साजिश रची. कानजी काफी समय से बीमार था. वो अजीब हरकतें करता था. इसी बात का फायदा उठाकर निशिता ने अपनी सास, पति और ननद को बताया कि ससुर जी के शरीर में किसी चुडैल का वास है.

Advertisement
aajtak.in
परवेज़ सागर सूरत, 16 November 2018
बहू ने ससुर को बताया चुड़ैल, बेटे-बेटी और पत्नी ने मिलकर वृद्ध को मार डाला पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है (फाइल फोटो)

गुजरात के सूरत में पुलिस ने एक शख्स के कत्ल का सनसनीखेज खुलासा किया है. उसके कत्ल की साजिश किसी और ने नहीं बल्कि उसके बेटे की पत्नी ने रची थी. दरअसल, मृतक अपने बेटे-बहू को घर से निकालना चाहता था. उसकी हरकत से सभी घरवाले परेशान थे. इसी दौरान बहू ने घरवालों से कहा कि ससुर के अंदर कोई चुडैल या भूत घुस गया है. इसके बाद सारे घरवालों ने पीट-पीटकर उस शख्स को मौत के घाट उतार दिया.

दरअसल, सूरत में बीती 10 दिसंबर को कानजी कुम्हार नामक बुजुर्ग शख्स की हत्या कर दी गई थी. पुलिस मामले की छानबीन कर रही थी. पुलिस को बताया गया कि उसकी मौत का कारण बीमारी थी. लेकिन पुलिस की छानबीन जैसे जैसे आगे बढ़ी, ये मामला कत्ल का निकला. जिसकी सूत्रधार मृतक की बहू निशिता थी.

कानजी कुम्हार के बेटे प्रकाश ने दो साल पहले अपनी मर्जी और जिद से गैर समाज की निशिता से शादी की थी. लेकिन कानजी इस रिश्ते से खुश नहीं था. वह अपने बेटे-बहू को घर से निकालना चाहता था. वो कई बार ये बात उन दोनों को कह चुका था. इस बात से प्रकाश और निशिता काफी परेशान थे.

इसी दौरान कानजी की बहू निशिता ने एक खौफनाक साजिश रची. कानजी काफी समय से बीमार था. वो अजीब हरकतें करता था. इसी बात का फायदा उठाकर निशिता ने अपनी सास, पति और ननद को बताया कि ससुर जी के शरीर में किसी चुडैल का वास है.

उसी दिन निशिता ने कहा कि ससुर जी की पिटाई करेंगे तो वो चुडैल निकल जाएगी. ससुर जी को कुछ नहीं होगा, वो फिर से ठीक हो जाएंगे. घरवालों ने उसकी बात पर यकीन कर लिया. निशिता की बात मानकर पत्नी, बेटी-बेटों ने ही कानजी को पीटना शुरू कर दिया. उन्होंने कानजी को इतना मारा कि उसकी मौत हो गई. इस पूरी वारदात को कानजी की 75 वर्षीय मां के सामने अंजाम दिया गया, मगर उसे नहीं पता था कि उसका बेटा मर चुका है.

पुलिस को तफ्तीश के दौरान पता चला कि निशिता ने भी कई बार कानजी को पीटा था. वो कहती थी कि भूत की पिटाई कर रही है. वारदात के दिन निशिता ने परिजनों के साथ मिलकर पहले कानजी की पूजा की और फिर उसे घंटों पीटा. उसकी मौत के बाद भी उसने पूरे परिवार को कानजी की लाश पर बैठाकर रखा था. उसका कहना था कि कानजी इससे जी उठेंगे.

वारदात के बाद कानजी की पत्नी हंसा, बेटे प्रकाश और दिनेश, नाबालिग बेटी, दूसरी बेटी हेतल और बहू निशिता कानजी की मां को साथ लेकर वहां से अपने गावं चले गए. मामले का खुलासा हो जाने के बाद पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. सभी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay