एडवांस्ड सर्च

मारपीट के आरोप के बाद अतीक अहमद को बरेली जेल किया शिफ्ट

आरोप है कि देवरिया जिला जेल में Former MP Atique Ahmed ने लखनऊ के एक रियल स्टेट कारोबारी का न सिर्फ अपहरण कराया, बल्कि जेल में बुलाकार पीट-पीटकर उसकी उंगलियां तक तोड़ डालीं. आरोप है कि अतीक अहमद पीड़ित की कंपनियों का जबरन मालिकाना हक चाहते थे.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in देवरिया/लखनऊ, 31 December 2018
मारपीट के आरोप के बाद अतीक अहमद को बरेली जेल किया शिफ्ट Former MP Atique Ahmed (File photo-PTI)

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिला जेल में बंद बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद के द्वारा लखनऊ के एक रियल स्टेट कारोबारी की पिटाई के आरोप के बाद वहां छापेमारी की गई. जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने रविवार रात भारी सुरक्षा बलों के साथ जेल में दो घंटे छापेमारी की. इस दौरान सीसीटीवी फुटेज से छेड़छाड़ की बात सामने आई. बहरहाल अतीक अहमद को बरेली जेल में शिफ्ट कर दिया गया है.

लखनऊ के रियल स्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल ने अतीक के खिलाफ अपहरण करके देवरिया जिला जेल में लाकर मारपीट करने और प्रॉपर्टी हस्तांतरित करने के लिए जबरन हस्ताक्षर कराने का मुकदमा दर्ज कराया है. वहीं, राज्य के गृह मामलों के प्रमुख सचिव अरविंद कुमार ने कहा है कि सरकार ने इस मामले में संज्ञान लिया है और जेल प्रशासन से रिपोर्ट तलब की है ताकि जो शिकायत मिली है, उसके बारे में जिम्मेदारी तय की जा सके.

बहरहाल मामले का संज्ञान लेते हुए डीएम और एसपी ने रविवार देर रात छापेमारी की. डीएम ने बताया की जेल में लगे सीसीटवी फुटेज से छेड़छाड़ की गई है. मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम गठित कर दी गई है. डीआईजी जेल अलग से इसकी जांच कर रहे हैं. फिलहाल अतीक अहमद को बरेली जिला जेल स्थानांतरित कर दिया गया है. प्रशासन ने इस संबंध में एक आदेश भी जारी किया है.

आरोप है कि देवरिया जिला जेल में अतीक अहमद ने लखनऊ के एक रियल स्टेट कारोबारी का न सिर्फ अपहरण कराया, बल्कि जेल में बुलाकार पीट-पीटकर उसकी उंगलियां तक तोड़ डालीं. आरोप है कि अतीक अहमद पीड़ित की कंपनियों का जबरन मालिकाना हक चाहते थे. लखनऊ के रहने वाले मोहित जायसवाल, रियल स्टेट समेत कई दूसरे बिजनेस करते हैं. मोहित ने कहा, 'मेरे बिजनेस पर अतीक अहमद की नजर पड़ गई है. अतीक ने कई बार जेल के भीतर से ही लाखों की रंगदारी वसूली. एक दिन अतीक के गुर्गों ने मेरा अपहरण कर लिया और देवरिया जेल ले गए. यहां अतीक ने मुझे पीटा. मेरा उंगली तोड़ दी.'

मारपीट के आरोपों को बताया गलत

वहीं, देवरिया जेल के अधीक्षक डीके पांडे मोहित जायसवाल के आरोपों को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि मारपीट की सूचना पूरी तरह गलत है. दोनों के बीच नियम कायदों के मुताबिक मुलाकात हुई.  जायसवाल ने इस संबंध में उन्हें कोई शिकायत नहीं की है.

डीके पांडेय ने कहा कि 26 तारीख को मोहित जायसवाल, अतीक अहमद से मिलने आए थे. दिन में 11 बजे एक आदमी के साथ आए मोहित की मुलाक़ात अतीक से जेल नियमों के अनुसार कराई गई थी. अपहरण करने के मामले की कोई जानकारी नहीं है. मैं इस मामले में आंतरिक रूप से जांच करूंगा. सीसीटीवी फुटेज भी देखूंगा. वहीं, इस मामले में मोहित की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay