एडवांस्ड सर्च

ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी बना 20 ग्राहकों को लूटा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

यह कंपनी ग्राहकों से किसी भी प्रॉडक्ट की ऑनलाइन बुकिंग के वक्त पहले ही रुपयों का ट्रांजैक्शन करा लेती थी. रुपये तो आ जाते थे, लेकिन ग्राहक को प्रॉडक्ट नहीं भेजा जाता था.

Advertisement
aajtak.in
तनसीम हैदर / आशुतोष कुमार मौर्य नोएडा, 20 November 2017
ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी बना 20 ग्राहकों को लूटा, पुलिस ने किया गिरफ्तार पुलिस गिरफ्त में आरोपी पवन मिश्रा

दिल्ली से सटे नोएडा के सेक्टर 3 में ऑनलाइन शॉपिंग के नाम पर लोगों से ठगी करने वाली एक फर्जी कंपनी का भंडाफोड़ हुआ है. पुलिस ने आरोपी पवन मिश्रा को गिरफ्तार करते हुए उसके पास से 1.10 लाख रुपये, 14 डेस्कटॉप, 14 सीपीयू, 14 कीबोर्ड, 14 इंटरकॉम, 4 फोन, 1 पेन ड्राइव और 2 चेकबुक बरामद किए हैं.

नोएडा पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि सेक्टर-3 में 'अमेजॉन ऑनलाइन शॉपिंग' नाम से फर्जी कंपनी चलाई जा रही है. इसके बाद पुलिस ने इस कंपनी में छापा मारा और पवन मिश्रा नामक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. इस दौरान आरोपी का एक साथी फरार हो गया. पुलिस फरार आरोपी की तलाश कर रही है.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, यह कंपनी ग्राहकों से किसी भी प्रॉडक्ट की ऑनलाइन बुकिंग के वक्त पहले ही रुपयों का ट्रांजैक्शन करा लेती थी. अकाउंट में पैसे तो आ जाते थे, लेकिन ग्राहक को प्रॉडक्ट नहीं भेजा जाता था. अब तक इस कंपनी द्वारा करीब 20 ग्राहकों को ठगने का मामला सामने आया है.

आरोपी पवन मिश्रा बिहार के मधुबनी का रहने वाला है. वह दिल्ली से सटे बदरपुर के जैतपुर इलाके में रहता है. उसका फरार साथी उदय भी बिहार का ही रहने वाला है.

ऑनलाइन ठगी का सबसे बड़ा मामला, 37 अरब की लूट

देश में ऑनलाइन ठगी का अब तक का सबसे बड़ा मामला इसी साल सामने आया था. ग्रेटर नोएडा के कॉलेज से बीटेक करने वाले अनुभव मित्तल ने डिजिटल मार्केटिंग के नाम पर socialtrade.biz नाम की वेबसाइट बनाई. लोगों को इसके जरिए एक साल में निवेश की रकम दोगुनी करने का झांसा दिया. वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन के लिए एक लाख 15 हजार लोगों ने शुरुआती दौर में पैसा जमा किया.

शुरू में मुनाफा होने के बाद जब कंपनी के बारे में फीडबैक मिलने लगा, तो इसमें निवेश करने वाले लोगों की तादाद छह लाख तक पहुंच गई. एसटीएफ ने सेक्टर 63 में कंपनी के ठिकानों पर छापा मारकर कंपनी के एमडी अनुभव मित्तल को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था.

इसके बाद अनुभव के पिता सुनील मित्तल को भी गिरफ्तार कर लिया था. एसटीएफ ने इन लोगों के सभी खाते भी फ्रीज कर दिए थे. तभी से इस मामले की जांच चल रही है. कंपनी ने करीब 7 लाख लोगों से पॉन्जी स्कीम (चिटफंड) के तहत 3700 करोड़ रुपये से ज्यादा जमा कराए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay