एडवांस्ड सर्च

दिल्ली में झपटमारों का आतंक, पर्स छीनने के दौरान महिला का टूटा हाथ-पैर

दिल्ली के झपटमार इतने बेखौफ हो चुके हैं कि वो बीच बाजार किसी को भी निशाना बना लेते हैं. ऐसे ही एक वारदात का सामना 62 साल की बुजुर्ग महिला रीता गोस्वामी को करना पड़ा.

Advertisement
aajtak.in
हिमांशु मिश्रा नई दिल्ली, 03 October 2019
दिल्ली में झपटमारों का आतंक, पर्स छीनने के दौरान महिला का टूटा हाथ-पैर घायल महिला रीता गोस्वामी

  • पर्स लेकर भाग गए झपटमार
  • तीन दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली

दिल्ली पुलिस का दावा है कि दिल्ली में स्ट्रीट क्राईम में 25 प्रतिशत की कमी आई है, लेकिन हकीकत कुछ और ही है. दिल्ली के झपटमार इतने बेखौफ हो चुके हैं कि वो बीच बाजार किसी को भी निशाना बना लेते हैं. ऐसे ही एक वारदात का सामना 62 साल की बुजुर्ग महिला रीता गोस्वामी को करना पड़ा.

28 सितम्बर को रीता गोस्वामी का जन्मदिन था. जन्मदिन के दिन रीता गोस्वामी को उनके पति डॉक्टर सुधीर गोस्वामी डीनर के लिए राजौरी गार्डन लेकर गए थे. रात करीब 10 बजे डिनर के बाद जब दोनों बाहर निकले और कार की तरफ जा ही रहे थे कि तभी एक स्कूटी पर दो लड़के आए और रीता गोस्वामी का पर्स छीनने लगे.

पर्स रीता गोस्वामी ने कंधे पर लटका रखा था. इस वजह से जब लड़कों ने पर्स छीन तो वो पर्स के साथ गिर पड़ी और उनके हाथ और पैर में फ्रैक्टर हो गया. इसके बाद डॉक्टर सुधीर अपनी पत्नी को लेकर चानन देवी अस्पताल पहुंचे, जहां उनके हाथ का तो ऑपरेशन करना पड़ा, जबकि पैर में भी प्लास्टर लगा है. इस वारदात के बाद दोनो पति पत्नी बेहद घबराए हुए हैं.

डॉक्टर सुधीर के मुताबिक, पर्स में 13 हजार कैश, मोबाइल फोन और डेबिट-क्रेडिट कार्ड था. जिस जगह पर इस वारदात को स्कूटी सवार बदमाशों ने अंजाम दिया है वो एरिया बेहद भीड़ वाला है. उसके बावजूद दिल्ली के झपटमार बेखौफ होकर वारदात को अंजाम दे रहे हैं.

दिल्ली पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है और आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाल रही है, लेकिन वारदात के चार दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay