एडवांस्ड सर्च

हनी ट्रैप में फंसा वकील लूटपाट का हुआ शिकार

घर, ऑफिस, पार्क या फिर फुटपाथ, कोई भी, कहीं भी सुरक्षित नहीं है. ऐसा ही एक वाक्या राजधानी दिल्ली में देखने को मिला. यहां लिफ्ट लेने के बहाने महिला बदमाशों ने एक वकील को अपना शिकार बनाया और लूट की वारदात को अंजाम दिया है. पुलिस ने आरोपी महिलाओं के केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी है.

Advertisement
aajtak.in
मुकेश कुमार/ तनसीम हैदर नई दिल्ली, 10 August 2016
हनी ट्रैप में फंसा वकील लूटपाट का हुआ शिकार लूट की वारदात को दिया अंजाम

घर, ऑफिस, पार्क या फिर फुटपाथ, कोई भी, कहीं भी सुरक्षित नहीं है. ऐसा ही एक वाक्या राजधानी दिल्ली में देखने को मिला. यहां लिफ्ट लेने के बहाने महिला बदमाशों ने एक वकील को अपना शिकार बनाया और लूट की वारदात को अंजाम दिया है. पुलिस ने आरोपी महिलाओं के केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी है.

जानकारी के मुताबिक, पेशे से वकील रितेश तंवर रविवार देर रात वजीरपुर से अपने घर नारायणा जा रहे थे. तभी राजौरी गार्डन इलाके में रिंग रोड पर उन्हें दो महिलाओं ने लिफ्ट मांगने का इशारा किया. मदद करने की नीयत से रितेश ने गाड़ी रोक ली. महिलाओं ने ऑटो-टैक्सी नहीं मिलने की बात कहते हुए सुरक्षित जगह तक छोड़ने के लिए कहा.

रितेश ने उन्हें कार की पीछे वाली सीट पर बैठने को कहा. एक महिला आगे और एक पीछे वाली सीट पर बैठ गई. कार कुछ ही दूरी तय कर पाई थी कि सुनसान इलाका देख उनमें से एक महिला ने चाकू निकाल लिया. रितेश की गर्दन पर चाकू रख वे लूटपाट करने लगी. उन्हें छेड़छाड़ के आरोप में फंसा देने की धमकी भी दी. इसके बाद फरार हो गईं.

इस घटना के बाद पीड़ित वकील रितेश तंवर काफी सहमे हुए है. उन्होंने पुलिस में इस मामले की शिकायत भी दर्ज कराई है. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है, लेकिन अभी तक पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लगा है. पीड़ित ने पीएम और गृहमंत्री से सुरक्षा की गुहार लगाई है. पुलिस का कहना है कि बहुत जल्द आरोपी गिरफ्तार कर लिए जाएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay