एडवांस्ड सर्च

दिल्ली: ख्याला में परिवार पर पड़ोसी का अटैक, चाकू से हमले में महिला की मौत

दिल्ली के ख्याला इलाके से यह घटना सामने आई है, जहां एक बेखौफ पड़ोसी ने भरी भीड़ के बीच एक परिवार पर ताबड़तोड़ चाकू से वार किए, जिसमें महिला की मौत हो गई, जबकि उसका पति व बेटा गंभीर रूप से जख्मी हो गया.

Advertisement
aajtak.in
पुनीत शर्मा/ चिराग गोठी नई दिल्ली, 17 January 2019
दिल्ली: ख्याला में परिवार पर पड़ोसी का अटैक, चाकू से हमले में महिला की मौत मृतका सुनीता (फोटो-आजतक)

दिल्ली के ख्याला इलाके में पड़ोसियों के बीच मामूली कहासुनी एक महिला की मौत की वजह बन गई. मामूली झगड़े के बाद एक शख्स ने अपने पड़ोस के परिवार पर चाकू से हमला कर दिया, जिसमें एक महिला की मौत हो गई जबकि उसके पति और नाबालिग बेटे को हमलावर ने जख्मी कर दिया. इस घटना के तुरंत बाद आरोपी मौके से फरार हो गया. हैरानी की बात ये है कि जिस वक्त यह घटना हुई, मौके पर बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे, जो तमाशबीन बने रहे. मौत का यह तांडव कैमरे में भी कैद हो गया.

घटना बुधवार शाम करीब 7.30 बजे की है. पश्चिम दिल्ली के ख्याला की डीडीए कॉलोनी में सुनीता नाम की महिला अपने परिवार के साथ रहती थी. चार दिन पहले सुनीता के बच्चे की बोतल को लेकर उसका पड़ोसी आजाद से झगड़ा हो गया था. यही बात बुधवार को एक बार फिर कहासुनी की वजह बन गई. दोनों के बीच इस बहस को देख सुनीता का पति वीरू और बेटा आकाश भी वहां पहुंच गया. आरोप है कि इस दौरान आजाद ने सुनीता पर चाकू से बुरी तरह वार कर दिए, जिससे वह खून से लथपथ हो गई.

परिवार पर भी वार

जब सुनीता के पति और बेटे ने बचाने की कोशिश की तो आरोपी ने उन्हें भी नहीं बख्शा और दोनों पर हमला बोल दिया और उन पर चाकू से कई वार किए. बताया जा रहा है कि आरोपी ने सुनीता के पति वीरू पर इतना जोरदार हमला किया है कि उसके पेट को बुरी तरह विक्षत कर दिया.

पुलिस के मुताबिक, मृतका की पहचान सुनीता के रूप में हुई है. जबकि घायलों में 41 साल के वीरू और आकाश हैं. पुलिस ने कहा कि शाम करीब साढ़े सात बजे मामूली बात पर इलाके में रहने वाली सुनीता और आरोपी का झगड़ा हुआ. महिला ने इसकी जानकारी अपने पति और बेटे को दी. वे भी आरोपी का मुकाबला करने के लिए पहुंच गए. इसके बाद आरोपी ने उनपर चाकू से कई बार वार किया.

पुलिस ने बताया कि पीड़ितों को ख्याला के गुरु गोविंद सिंह अस्पताल ले जाया गया जहां सुनीता को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि उसके पति और बेटे की हालत गंभीर बताई जा रही है. पुलिस का कहना है कि आरोपी आजाद की तलाश की जा रही है जो कि मौके से फरार हो गया था. पुलिस का कहना है कि आरोपी आजाद का अपनी पत्नी से झगड़ा चल रहा था और उसकी पत्नी मकान के ऊपरी हिस्से में रहती थी जबकि आजाद मकान के निचले हिस्से में रहता था और बैटरी रिपेयरिंग का काम करता था.

जबकि मृतका सुनीता का पति वीरू चाय की दुकान चलाता है और उसके चार बच्चे हैं. वीरू के भाई छत्रपाल का आरोप है कि आरोपी आजाद बार-बार झगड़ा करता रहता था और बदमाश किस्म का आदमी है. फिलहाल पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और फरार आरोपी आजाद की तलाश कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay