एडवांस्ड सर्च

चलती कार में दोस्त का मर्डर, 5 घंटे में खुला राज, 5 गिरफ्तार

दीपक के पास बीते दो दिन की छुट्टी होने के कारण दूध के कलेक्शन का पैसा था जो कि करीब सवा चार लाख था. उसी पैसे को लूटने के लिए उसके दोस्तों ने ही उसके हत्या की साजिश रची थी.

Advertisement
aajtak.in
परवेज़ सागर नई दिल्ली, 06 September 2018
चलती कार में दोस्त का मर्डर, 5 घंटे में खुला राज, 5 गिरफ्तार पुलिस ने महज पांच घंटे में कत्ल की इस वारदात से पर्दा उठा दिया

दिल्ली में कुछ युवकों ने पैसे के लालच में अपने एक दोस्त की चलती कार में हत्या कर दी. आरोपियों ने कत्ल के बाद उसकी लाश को अलीगढ़ नहर में ठिकाने लगा दिया था. लेकिन पांच घंटे बाद ही उनका राज खुल गया और सभी आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गए.

हत्या की यह वारदात साउथ ईस्ट दिल्ली के जैतपुर थाना इलाके की है. जहां रहने वाला 23 वर्षीय दीपक एक दूध कंपनी का डिस्ट्रीब्यूटर था. उसका काम भी अच्छा चल रहा था. मगर उसकी अच्छी आमदनी ही उसके लिए जानलेवा बन गई. दरअसल, उसके दोस्तों ने उसे लूटने की योजना बनाई थी.

साजिश के तहत उसके दोस्त जन्माष्टमी के दिन उसे बहाने से अपने साथ कार में ले गए. इसके बाद उन लोगों ने चलती कार में दीपक का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी. फिर वे उसी कार से लाश को ले जाकर अलीगढ़ नहर में फेंक आए.

दरअसल, दीपक के पास बीते दो दिन की छुट्टी होने के कारण दूध के कलेक्शन का पैसा था जो कि करीब सवा चार लाख था. उसी पैसे को लूटने के लिए उसके दोस्तों ने ही उसके हत्या की साजिश रची थी.

इधर, जब काफी देर तक दीपक का पता नहीं चला तो परिवार वालों ने खोजबीन की. पुलिस को सूचना भी दी. पुलिस ने मामला दर्ज कर शक के आधार पर पूछताछ की, तो दीपक के दोस्तों की पोल खुल गई. पहले 3 को पकड़ा गया. उनकी निशानदेही पर अलीगढ़ से देर रात दीपक का शव बरामद कर लिया गया.

बाद में पुलिस ने बाकी 2 आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने उनके पास से लगभग साढ़े 4 लाख रुपया नकद भी बरामद कर लिया. पुलिस ने पंचनामे की कार्रवाई के बाद दीपक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay