एडवांस्ड सर्च

सावधान: आपका पैसा आपके अकाउंट से गायब हो सकता है!

नोटबंदी को लेकर उम्मीदों का दौर अब खत्म हो रहा है. वादे के 50 दिन पूरे हो गए. मगर कतार अब भी ज्यादा और कैश अब भी कम. कैश के इसी किल्लत से पार पाने के लिए सरकार कैशलेस हिंदुस्तान पर जोर दे रही है. लेकिन सरकार की इस कैशलेस कोशिश पर दिल्ली से करीब 1200 किलोमीटर दूर बैठे कुछ लोगों ने ऐसा बट्टा लगाया है कि डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, बैंक खाते सब कुछ दांव पर लग गए हैं. बस एक फोन कॉल आता है और आपका कार्ड आपका खाता सब कुछ लुट जाता है.

Advertisement
aajtak.in
मुकेश कुमार/ शम्स ताहिर खान नई दिल्ली, 29 December 2016
सावधान: आपका पैसा आपके अकाउंट से गायब हो सकता है! झारखंड के जामताड़ा में साइबर अपराधियों का गढ़

नोटबंदी को लेकर उम्मीदों का दौर अब खत्म हो रहा है. वादे के 50 दिन पूरे हो गए. मगर कतार अब भी ज्यादा और कैश अब भी कम. कैश के इसी किल्लत से पार पाने के लिए सरकार कैशलेस हिंदुस्तान पर जोर दे रही है. लेकिन सरकार की इस कैशलेस कोशिश पर दिल्ली से करीब 1200 किलोमीटर दूर बैठे कुछ लोगों ने ऐसा बट्टा लगाया है कि डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, बैंक खाते सब कुछ दांव पर लग गए हैं. बस एक फोन कॉल आता है और आपका कार्ड आपका खाता सब कुछ लुट जाता है.

8 नवंबर की उस रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाइयों और बहनों कह कर क्या पुकारा पूरा देश उसी रात से ही कतार में खड़ा हो गया. सवा करोड़ की आबादी पर सवा दो लाख एटीएम और सवा लाख बैंक शाखाएं. 500 और हजारी के 85 फीसदी नोट रद्दी होने जा रहे थे. लिहाजा 100-50 पर ही सब टूट पड़े. नतीजा बैंक और एटीएम से अचानक सारा कैश गायब और बस यहीं से शुरू होती है कैश लेस या लेस कैश की कहानी. इधर ये कहानी शुरू हुई उधर झारखंड के जंगल में अचानक हलचल तेज.

दिल्ली से करीब 1200 किलोमीटर दूर झारखंड के जामताड़ा के घने झंगलों में बांस के झरुमुट के बीच बने बैंको से आप में से ही किसी एक खाताधारक को इस वक्त जा रही है एक रहस्यमयी फोन कॉल. एक ऐसी कॉल जो मिनटों में आपको कंगाल बना सकती है. आपका खाता, आपका पैसा सब कुछ चुरा ले ये एक कॉल. यकीन नहीं आता तो इन्हीं जंगलों में बने पुलिस थाने के एक अफसर की जुबानी देश के लुटने की कहानी सुनकर होश उड़ गए. उसने बताया कि पूरे देश की पुलिस यहां की खाक छान चुकी है.

झारखंड के घने जंगलों के बीच देश के सबसे बड़े और शातिर साइबर क्रिमिनल्स का गढ है. ये वो जंगल हैं, जहां से बैठे-बैठे अब तक देश के लाखों लोगों के करोड़ों रुपए बैंक खाते से गायब कर दिए गए. इसी गढ़ में मोदी के सपनों पर चोट करने वालों का पूरा सच, उनके लूटने का हर तरीका, उनकी दगाबाजी के हर चाल को जानने के लिए आज तक की इनवेस्टिगेटिव टीम पहुंची झारखंड के उन्हीं जंगलों में उनके गढ़ के अंदर, जहां का नजारा देख हैरान रह गए. ठगों ने खुद अपनी जुबानी ही कहानी सुना दी.

ठगों की जुबानी उनकी दुनिया का राज
सवाल- कैसे कॉल करता है?
जवाब- नमस्कार सर, मैं आईसीआईसीआई बैंक से आपको कॉल किया कस्टमर केयर से, जो आपका एटीएम है वो आज का शुभ डेट में होल्ड पर रखा है. आपका खाता बंद हुआ है. उसको चालू करवाना है तो एटीएम का कोड 16 नम्बर का होता है, वो लेता है. पीछे में नम्बर होता है वो लेता है फिर नेट के जरिए पैसा निकाल लेता है. दूसरा नम्बर से दूसरा अकाउंट में पैसा डालता है.

सवाल- वो दूसरा वाला अपना मोबाइल जो है दूसरा वाला मोबाइल है ना पीछे रखा है उसको निकालिए और कैसे कालिंग करते हैं क्या बोलते हो बताओ?
जवाब- फोन निकाल कर (दोनों फोन से कैसे काम करता है बताते हुए. एक फोन से कॉल करता है, जबकी दूसरा फोन इंटरनेट से जुड़ा रहता है. जैसे कोई फंसता है नेट से जुड़े मोबाइल से पैसा ट्रांसफर कर लेता है.

सवाल- एक दिन में कितनी कॉलिंग कर लेते हो.
जवाब- दस, बीस, पचास.

सवाल- कितने फंसा पाते हो.
जवाब- कभी-कभी फंसता है. चार-पांच दिन में एक फंसा तो फंसा.

सवाल- एटीएम में जितना पैसा होता है वो सब आ जाता है.
जवाब- नहीं जैसे पचास हजार किसी किसी के अकाउंट में होता है तो 2 हजार तीन हजार करके निकालता है.

सवाल- सब इधर की कॉलिंग करने आते हैं.
जवाब- सब लोग इधर आते हैं. दूसरा गांव का लड़का भी आता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay