एडवांस्ड सर्च

Advertisement

फोटो मॉर्फिंग कर बनाया पोर्न वीडियो, डिलीट करने के लिए मांगी रकम

फोटो मॉर्फिंग कर बनाया पोर्न वीडियो, डिलीट करने के लिए मांगी रकम
aajtak.in [Edited by: राहुल सिंह]नई दिल्ली, 21 March 2017

साउथ दिल्ली में रहने वाली एक छात्रा के पास एक दिन अनजान नंबर से एक वीडियो भेजा जाता है. वह वीडियो देखती है और उसे देखते ही उसके पैरों तले जमीन खिसक जाती है. दरअसल वह एक पोर्न वीडियो था और उस वीडियो में नजर आने वाली लड़की कोई और नहीं बल्कि वह खुद थी.

12वीं में पढ़ने वाली पीड़िता अश्लील वीडियो में खुद को देखकर हैरान रह जाती है. दरअसल वीडियो भेजने वाले शख्स ने उसे डिलीट करने के लिए पीड़िता से रुपयों की मांग की थी. पीड़िता पुलिस में इसकी शिकायत करती है. शुरूआती जांच में खुलासा हुआ कि पीड़िता की तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ कर वीडियो बनाया गया है.

सोशल मीडिया से ली थीं तस्वीरें
दरअसल आरोपी ने सोशल मीडिया से पीड़िता की तस्वीरें कॉपी करने के बाद उन्हें मॉर्फ कर अश्लील वीडियो तैयार किया था. साइबर एक्सपर्ट्स के अनुसार, पहले प्यार में धोखा मिलने के बाद आशिक अपनी प्रेमिका से बदला लेने के लिए ऐसा किया करते थे. लेकिन अब कुछ बदमाशों ने इसे ब्लैकमेल कर पैसे ऐंठने का धंधा बना लिया है.

फेसबुक, वॉट्सएप से चुराते हैं फोटो
साइबर एक्सपर्ट्स की मानें तो इस गिरोह में शामिल लोग पहले तो फेसबुक, वॉट्सएप आदि सोशल मीडिया से लड़कियों की तस्वीरें निकालते हैं. फिर वह उन तस्वीरों को मॉर्फ करने के बाद अश्लील फोटो और वीडियो बना लेते हैं. जिसके बाद शुरू होता है ब्लैकमेलिंग का घिनौना खेल.

वायरल करने की धमकी देकर ऐंठते हैं रकम
आरोपी भोली-भाली लड़कियों को उनकी अश्लील फोटो और वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उनसे रकम ऐंठते हैं. पुलिस की मानें तो कई बार लड़कियां बदनामी के डर से पुलिस में इसकी शिकायत तक नहीं करती हैं. आरोपियों के चंगुल में फंसने के बाद लड़कियां लाखों रुपये तक गंवा बैठती हैं.

प्ले स्टोर पर मौजूद हैं कई एप्स
पुलिस ने बताया कि जिस तरह से स्मार्टफोन का प्रयोग बढ़ा है, साइबर क्राइम का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ रहा है. प्ले स्टोर पर फोटो मॉर्फिंग करने वाली कई मुफ्त एप्स मौजूद हैं. इसी कड़ी पर बात करते हुए एक अधिकारी बताते हैं कि उनके पास एक विदेशी महिला ने इसी तरह की एक शिकायत दर्ज कराई थी.

फोन से मिलीं दो हजार फोटो
पुलिस ने उस मामले में जांच करते हुए आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया था. मगर महिला ने ही लिखित में शिकायत देने से इंकार कर दिया था. अधिकारी बताते हैं कि उन्हें आरोपी के फोन से लड़कियों की तकरीबन दो हजार फोटो मिलीं थीं. उसने कई लड़कियों की तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ कर उन्हें ब्लैकमेल कर रकम ऐंठी थी.

इंटरनेशनल क्रिमिनल्स भी हैं शामिल
पुलिस की मानें तो इस गिरोह में कई इंटरनेशनल क्रिमिनल्स भी शामिल हैं. वह लोग तस्वीरों की खरीद-फरोख्त करते हैं. फिलहाल साइबर क्राइम से निपटने के लिए पुलिस अपनी तैयारियों को पूरा बता रही है. वहीं साइबर क्राइम की रोकथाम के लिए पुलिस युवाओं से सतर्क रहते हुए सोशल मीडिया के इस्तेमाल की भी अपील कर रही है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay